राजस्थानी प्रेम कहानी : ढोला मारू

राजस्थान की लोक कथाओं में बहुत सी प्रेम कथाएँ प्रचलित है पर इन सबमे ढोला मारू प्रेम गाथा विशेष लोकप्रिय रही है .

जहाँ मन्नत मांगी जाती है मोटरसाईकिल से !

मै यहाँ एक ऐसे स्थान की चर्चा करने जा रहा हूँ जहाँ इन्सान की मौत के बाद उसकी पूजा के साथ ही साथ उसकी बुलेट मोटर साईकिल की भी पूजा होती है.

भूतों का महल : भानगढ़ का सच

राजस्थान के भानगढ़ का उजड़ा किला व नगर भूतों का डरावना किले के नाम से देश विदेश में चर्चित है.

"उबुन्टू लिनक्स" इसका नाम तो बाली होना चाहिए था

उबुन्टू की इस तेज गति से नेट चलाने का कारण पूछने पर हमारे मित्र भी मौज लेते हुए बताते है कि जिस तरह से रामायण के पात्र बाली के सामने किसी भी योद्धा के आने के बाद उसकी आधी शक्ति बाली में आ जाती थी.

क्रांतिवीर : बलजी-भूरजी शेखावत

आज भी बलजी को नींद नहीं आ रही थी वे आधी रात तक इन्ही फिरंगियों व राजस्थान के सेठ साहूकारों द्वारा गरीबों से सूद वसूली पर सोचते हुए चिंतित थे तभी उन्हें अपने छोटे भाई भूरजी की आवाज सुनाई दी |.

Jul 22, 2014

Font Converter, Chanakya, krutidev. 4cgandhi to unicode and unicode to chanakya, krutidev, 4cgandhi

 




4c Gandhi to unicode font converter, 4CGandhi to Chanakya, 4CGandhi to Unicode, 4CGandhi to Unicode to 4CGandhi Converter, All Font converters, All Hindi Font Converters, Chanakya kundli krutidev to Unicode Converter, Chanakya to Unicode, Change font, convert any hindi font to unicode hindi font., Convert Hindi fonts: 4CGandhi to Unicode, Convert Unicode Hindi Font to Krutidev Font . This conversion tool can convert Unicode Hindi font such as Mangal font to Krutidev, Converter Unicode to 4cGandhi / Chankya / Kruti Dev. Unicode text-box. 4CGandhi / Chankya / Kruti Dev text-box., Download Hindi font converter, Download Hindi Fonts Converter, Free Hindi Unicode Converter, Free Online Font Converter, Free Online Font Converter Tools, Hindi Font Converter, i convert all hindi fonts in chanakya font and how? plz. send …, Kruti Dev to Unicode, KrutiDev to Unicode, KrutiDev Unicode Converter, online All Font converters, Online Font Converter, Online Font Converter Converts Your Fonts, Online Kruti Dev Hindi to Unicode Hindi Converter, Unicode Hindi Converter | Unicode Data Conversion | Conversion, Unicode to 4CGandhi, unicode to chanakya, Unicode to Chanakya font Converter, Unicode to Chanakya krutidev kundli Converter, Unicode to Kruti Dev, Unicode To Kruti Dev Converter, Unicode to KrutiDev

Jul 8, 2014

रेल विभाग लगा है राणा सांगा स्मारक हटाने की जुगत में

भारत की स्वतंत्रता के लिए देश के लगभग राजाओं को एक झंडे के नीचे लाकर बाबर से लड़ने वाले राणा सांगा का स्मारक रूपी चबूतरा जहाँ राणा का अंतिम संस्कार किया गया था अब तक उपेक्षित था| स्वतंत्रता और राष्ट्रवाद के प्रतीक राणा के चबूतरे का रख रखाव करने में आजतक ना सरकार ने कोई कदम उठाया ना राणा के उतराधिकारियों ने अलवर जिले के बसवा गांव में रेल पटरियों के पास बने इस स्मारक की मरम्मत कराने पर ध्यान दिया|

हाँ ! यदि स्मारक के पास राणा को भवन बनाकर छोड़ जाते तो उनके वर्तमान उतराधिकारी उसकी साज सज्जा पर अवश्य ध्यान देते क्योंकि भवन हेरिटेज होटल बना कमाई का जरिया बनता, लेकिन स्मारक से कोई कमाई नहीं की जा सकती सो उतराधिकारी भी क्यों ध्यान दे?

खैर.....अब तक भले स्मारक उपेक्षित था, उसका रख रखाव नहीं हो पाया लेकिन कम से कम उस जगह स्थापित तो था लेकिन अफ़सोस अब यह स्मारक रूपी चबूतरा भी वहां से हटने की कगार है| जिस देश की सरकार किसी अनजान इंसान की कब्र तक को हटाने की हिम्मत नहीं कर पाती उसी सरकार का रेलवे विभाग रेल मार्ग चौड़ा करने के लिए राणा के चबूतरे को 15 मीटर दूर खिसकाना चाहते है| जबकि रेल मार्ग चौड़ाई दूसरी और की भूमि अधिग्रहित करके भी चौड़ी की जा सकती है, लेकिन रेल के अधिकारी दूसरी और के किसान की भूमि बचाकर राणा को विस्थापित करना चाहते है|

देखते है राष्ट्रवाद के नाम का दम भरने वाली सरकार राष्ट्रवाद के प्रतीक राणा सांगा का स्मारक बचाती है या कथित विकासवाद को राष्ट्रवाद के नाम से जोड़कर राष्ट्रवाद के प्रतीक राणा का स्मारक हटाती है?

सरकार के साथ उन उन संगठनों की भूमिका भी देखते है जो जाति के नाम पर गाल फुलाते है तो कई संगठन राष्ट्रवाद व हिन्दुत्त्व के नाम पर गाल फुलाते है या राणा सांगा के स्मारक को बचाने हेतु आगे आते है ????

Jun 27, 2014

गाय का मांस नहीं, दूध ज्यादा ताकतवर होता है : महात्मा लटूरसिंह

रामपुर में महात्मा लटूर सिंह का गाय की महत्ता पर व्याख्यान चल रहा था, उनके व्याख्यानों के बारे में मुसलमानों को भी पता था कि वे क्या बोलते है? अत: उन्हें सुनने के लिये कई मुस्लिम भी आये थे, कुछ उन्हें सुनने तो कुछ उन्हें चुप कराने| जो चुप कराने आये थे उन्हें एक तकलीफ और भी थी, महात्मा लटूर सिंह मुसलमानों की शुद्धिकरण करते थे, मतलब उनका वापस धर्मान्तरण| सो उन्हें सबक सिखाने के लिए कुछ तत्व उस समय के नामी पहलवान वली मोहम्मद को साथ लेकर आये| वली मोहम्मद गामा पहलवान की जोड़ी का था और दोनों की कुश्ती बराबरी पर छुटी थी|

रामपुर में उस वक्त नबाब का राज था और पहलवान वली रामपुर नबाब का आश्रित पहलवान था|
महात्मा ने गाय की महत्ता समझाते हुये कहा- गाय का दूध, गाय के मांस से ज्यादा ताकतवर होता है अत: मुसलमानों को गौ-भक्षक की बजाय गौ-रक्षक बनाना चाहिये|

तभी वली मोहम्मद पहलवान बोल उठा - महात्मा आप गाय का दूध पीते है और मैं गाय का मांस खाता हूँ सो आपस में कुश्ती हो जाय| पता चल जायेगा कि दूध या मांस कौन ताकतवर है?

महात्मा ने सामने बैठे लोगों से पूछा - क्या कोई है जो इस पहलवान की चुनौती स्वीकार कर सकता हो?

लेकिन कहीं से कोई आवाज नहीं आई, चारों और ख़ामोशी छा गई जिसे देख महात्मा बोले - ठीक है आप में से कोई इस पहलवान से लड़ना नहीं चाहता तो फिर हम लड़ेंगे| आखिर हमने ही यह बात कही है सो जबाब भी अब हम ही देंगे|

बस फिर क्या था? दोनों की कुश्ती तय हो गई, उस वक्त रामपुर में अंग्रेज कलेक्टर हुआ करता था, तय समय पर कुश्ती हुई और महात्मा ने पहलवान वली मोहम्मद को एक ही मिनट में चित कर दिया| महात्मा ने उसे उठाया और फैंक दिया जिसकी वजह से उसकी पसलियाँ टूट गई और तीन दिन बाद पहलवान मृत्यु को प्राप्त हुआ|
इस तरह महात्मा ने साबित कर दिया कि गाय का मांस नहीं दूध ज्यादा ताकतवर होता है|

परिचय :- महात्मा लटूर सिंह का जन्म सन 1885 में मेरठ के पास मऊ ग्राम (बारहा) के ठाकुर लख्मीसिंह के घर हुआ था| बचपन में आपने गीत गाते हुए गायें चराई और गाय के दूध व घी का खूब उपभोग किया| जिससे आपका स्वास्थ्य बहुत बढ़िया हो गया, शरीर भी पहलवानों की तरह मजबूत हो गया, यही नहीं आपकी चुश्ती-फुर्ती देख आपको उसी समय लोग पहलवान कहने लग गए थे और आपने भी कुश्ती का अभ्यास किया व 35 साल की उम्र होते होते आपकी गिनती देश के प्रसिद्ध पहलवानों में होने लगी, 50 वर्ष की आयु तक आपने पहलवानी की व कभी किसी से हारे नहीं| शास्त्रों का अध्ययन करने के साथ ही आपने चार हजार मुसलमानों का शुद्धिकरण किया| आप आर्य समाजी भी थे| आपने कई ग्रन्थ लिख साहित्य सेवा भी की| पिलखुआ ने आपने राजपूत रेजीमेंट कालेज की स्थापना कराई, जनरल करियप्पा से आपकी अच्छी मित्रता थी| गढ़मुक्तेश्वर में आपने एक धर्मशाला भी बनवाई और आखिर 27 अक्टूबर 1973 को आप इस संसार को छोड़ गये|

राष्ट्र निर्माण पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ठाकुर विक्रम सिंह जी महात्मा के बारे में बताते हुये-




संदर्भ : ठाकुर विक्रम सिंह द्वारा संपादित पुस्तक : आर्य समाज के भीम महात्मा लटूर सिंह

mahatma latur singh, latoor singh, pahalvan latur singh

Jun 22, 2014

रोजगार सूचना

Govt.Recognized Export House (Manufacturers & Exporters of Handmade Rugs, Floor-mat, Bathmats, Furnishing & Handicrafts)के यहाँ निम्नलिखित पदों के लिए रिक्त स्थान खाली है, योग्य उम्मीदवार ज्ञान दर्पण.कॉम से टिप्पणी के माध्यम से सम्पर्क करें|

- Senior Merchandiser
8-10yr. Exp. in Export Business with Rugs/textile
Qualification : MBA, Very Good in English/ writing skill & computer proficiency in MS Office, Photoshop, Illustrator

Shipping Head
8-10 Exp. in Export Sector. Full Knowledge of export legislation & documentation. Very Good in English/ writing skill & computer proficiency in MS Office.

Quality Engineer cum Prodution coordinator
8-10 exp. in Handloom export sector.
Degree in textile engineering.
Very Good in English / writing skill & computer proficiency in MS Office.
in-dept knowledge of Inspection Level, testing & manage internal Laboratory.

इनके अलावा भी B.Com, M.Com पढ़े लड़के जिन्हें अंग्रेजी का अच्छा ज्ञान हो और कंप्यूटर चलाना जानते हो भी सम्पर्क करें|
सुरक्षा गार्ड व गनमेन की भी आवश्यकता है, सुरक्षा गार्ड के लिए फैक्ट्री में रहने व भोजन की सुविधा वेतन के साथ है|
फैक्ट्री बहादुरगढ़ झज्जर सड़क मार्ग है, दिल्ली जनकपुरी से आने जाने के लिए कम्पनी ने बस सुविधा का इंतजाम कर रखा है साथ ही स्टाफ में बैचलर्स के रहने के लिये आवास हेतु होस्टल सुविधा व खाने हेतु कैंटीन की उत्तम सुविधा है|

अपने बायोडाटा निम्न पते पर ईमेल किये जा सकते है
shekhawatrs@ymail.com

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

Share

Twitter Delicious Facebook Digg Stumbleupon Favorites More