21

उबुन्टू लिनक्स कैसे इंस्टाल करें
लिनक्स ऑपरेटिंग सिस्टम के बारे में जानकारी न होने के कारण इसका इस्तेमाल बहुत ही कम हो पा रहा है | वायरस फ्री व मूल्य फ्री होने के बावजूद जानकारी के अभाव में लोग लिनक्स का इस्तेमाल करने से वंचित है | और महंगा विण्डो ऑपरेटिंग सिस्टम इस्तेमाल करने को मजबूर है | मैंने Red Hat, Fedora, ubuntu आदि linux के ऑपरेटिंग सिस्टम इस्तेमाल करके देखे जिनमे नए लोगो के लिए ubuntu linux ऑपरेटिंग सिस्टम मुझे इस्तेमाल करने में बहुत आसान लगा | कम्पूटर में कोई भी ऑपरेटिंग सिस्टम इस्तेमाल करने हेतु सबसे पहले चुना गया ऑपरेटिंग सिस्टम इंस्टाल करना होता है जो सबसे मुश्किल कार्य लगता है और इसके लिए ज्यादातर लोग हार्डवेयर इंजिनियर से यह काम करवाते है पर इन इंजीनियर्स में भी बहुत कम लोग है जो लिनक्स इंस्टाल करना जानते हो | जबकि ubuntu linux इंस्टाल करने में विण्डो एक्स पी. से भी ज्यादा आसान है | आइए आज जानते है ubuntu linux installation के बारे में | उबुन्टू को दो तरीके से इंस्टाल किया जा सकता है एक विण्डो एक्स.पी के अंदर और दूसरा सेपरेट यहाँ दुसरे तरीके पर चर्चा करते है | विण्डो एक्स.पी में इंस्टाल करने का तरीका यहाँ लिखा है |


१- सबसे पहले ubuntu की सी डी. सी डी रोम में डालकर कंप्यूटर को रिस्टार्ट कर सी डी रोम से रिबूट करावें |
२- सी डी रोम से रिबूट होते ही कंप्यूटर की स्क्रीन पर भाषा चुनने का आप्शन आएगा | जिसमे हिंदी सहित कोई भी मन पसंद भाषा चुनी जा सकती है \
३- भाषा चुनकर आगे बढ़ते ही कुछ आप्शन मिलते है जिनमे से Install Ubuntu पर चटका लगाकर थोडा इंतजार करें |
४- कुछ इंतजार के बाद स्क्रीन पर Ubuntu Desktop दिखाई देगा व दुबारा भाषा चुनने का आप्शन मिलेगा यहाँ भाषा का चुनाव करने के बाद (Forward ) आगे बढे \
५- अब टाइम जोन कोलकत्ता चुनने के बाद आगे बढे |
६- Key Bord layout चुने व आगे बढे |( forward पर चटका लगा कर )
७- अब Prepare Disk Space का पर्चा खुलेगा | विण्डो एक्स पी. को यथावत रखने के लिए Manual पर चेक का निशान लगते हुए आगे बढे |
८- अब कंप्यूटर के सभी Disk partition की सूची दिखाई देगी जिस डिस्क पार्टीशन में उबुन्टू लिनक्स इंस्टाल करना है उसे सलेक्ट कर Edit Partition पर चटका लगाएँ |
९- Edit Partition पर चटका लगाते ही एक पर्चा खुलता है जिसमे :
अ - Partition use as -- में ext2 file system चुने |
ब- format the partition के आगे चेक बॉक्स में चेक का निशान लगाएँ |
स- choose mount point में / चुने |
और (forward) बढे |
१०- अब swap partition के बारे में पूछा जायेगा इसे continue पर चटका लगा आगे बढे |
११- आगे बढ़ते ही एक विण्डो खुलेगा जिसमे यूजर नाम व पासवर्ड आदि भरें | यदि auto log in चाहते है तो autometically log in पर चेक का निशान लगाते हुए आगे बढे |
१२- एक पर्चा Migrate Document & Settings के नाम खुलेगा जिसमे विण्डो एक्स.पी. के किस यूजर का document & setting का फोल्डर ubuntu में मिग्राते करना है पूछा जायेगा | सम्बंधित फोल्डर को सलेक्ट कर आगे बढे |
१३- Ready to install का पर्चा खुलेगा जिसमे Install पर चटका लगादे | थोडा इंतजार करें |
अब इंस्टालेशन की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है फाइल्स आदि कॉपी होते समय ८२% पर आकर एक बार इंस्टालेशन गति कुछ रुक सी जाती है लेकिन कृपया धेर्य रखे व लगभग २० मिनट तक इंतजार करे | इंतजार का समय कम ज्यादा आपके कंप्यूटर की गति से हिसाब से हो सकता है इस वक्त scanning the mirror की प्रक्रिया चल रही होती है जो कुछ समय लेती है | इस प्रक्रिया के बाद आगे इंस्टालेशन की प्रक्रिया स्वत: ही पूरी हो जाती है और कंप्यूटर को रिस्टार्ट करने को कहा जाता है |
कंप्यूटर रिस्टार्ट होते ही उबुन्टू की सी डी स्वत: ही बाहर निकल आती है | अब आगे उबुन्टू चलाने हेतु विण्डो एक्स.पी व उबुन्टू में से उबुन्टू सलेक्ट कर Enter दबा दे बस कुछ ही क्षणों में उबुन्टू लिनक्स ऑपरेटिंग सिस्टम आपके कंप्यूटर के डेस्कटॉप हाजिर है | मजे के साथ नेट चलायें,गाने सुने या ओपन ऑफिस .ओआरजी में अपने ऑफिस का काम करें बिना किसी दिक्कत के ,बिना किसी वाइरस के डर के व बिना कोई ऑडियो वीडियो व अन्य ड्राईवर्स के इंस्टालेशन के |

उबुन्टू लिनक्स आप यहाँ से फ्री मंगवा सकते है

Post a Comment

 
Top