पृथ्वीराज चौहान व राजा अनंगपाल तोमर के रिश्ते का सच

पृथ्वीराज चौहान व राजा अनंगपाल तोमर के सम्बन्धों के बारे में आम धारणा है कि दिल्ली के राजा अनंगपाल तोमर पृथ्वीराज चौहान के नाना थे और उनके कोई संतान ना होने के कारण पृथ्वीराज को दिल्ली की गद्दी मिली| यही नहीं कन्नौज नरेश जयचंद को अनंगपाल तोमर का दोहित माना जाता है और दिल्ली की […]

क्रांतिवीर मोड़सिंह चौहान

अगस्त 1942 के एक दिन अहमदाबाद में चारों ओर अग्रेजों भारत छोड़ो के नारे लग रहे थे, नन्हें मुन्नें बालक भी ट्राफिक सिग्नल की ओर पत्थर फैंक रहे थे| तभी वहां आईबारा नाम के एक पुलिस निरीक्षक के नेतृत्व में पुलिस आई और सीधे भीड़ पर गोली चला दी| पुलिस गोली से साईकिल सवार एक […]

महाराज कीर्तिपाल चौहान

राजस्थान में नाडोल के चौहान अधिपति आलन के पुत्र कीर्तिपाल चौहान जो इतिहास में कीतु के नाम से भी विख्यात थे, चौहान वंश में एक महान पुरुष हुए है| कीर्तिपाल चौहान अपनी 12 गांवों की जागीर को बढाकर एक स्वतंत्र राज्य की स्थापना कर, अपनी प्रतिभा का परिचय देते हुए, शक्तिशाली शासक के रूप में […]

अखेराज सोनगरा चौहान

Akhairaj Songara Chauhan of Pali History in Hindi 1536 ई. में Rana Sanga के बड़े भाई राजकुमार पृथ्वीराज के दासी पुत्र बनवीर ने मेवाड़ के महाराणा विक्रमादित्य को मार कर मेवाड़ की सत्ता हथियाली थी| अखेराज सोनगरा चौहान बनवीर Banvir ने विक्रमादित्य के छोटे भाई उदयसिंह को भी मारने का प्रयास किया पर स्वामिभक्त पन्ना […]

क्रांतिकारियों का शरणदाता रावत जोधसिंह चौहान, कोठारिया

राजपुताना के राजाओं को मराठों व पिंडारियों की लूटपाट, आगजनी व आम जनता पर उनकी क्रूरता से त्रस्त शांति की आस में अंग्रेजों से संधियाँ करनी पड़ी| इस तरह मराठों व पिंडारियों के कुकृत्यों ने राजपुताना में स्वत: ही अंग्रेजों को पांव ज़माने का सुनहरा अवसर दे दिया| राजाओं की अंग्रेजों के साथ संधियाँ राजपुताना […]

अजमेर के संस्थापक चौहान राजा अजयपाल का मंदिर

Raja Ajaypal Mandir, Chauhan Raja Ajaypal Temple : अजमेर से लगभग 10 किलोमीटर दूर अरावली पर्वतमाला की सुरम्य घाटी में अजयसर गांव के पास “अजोगंध महादेव मंदिर” नामक प्राचीन मंदिर स्थित है| ऐतिहासिक अजयमेरु नगर (अजमेर) के संस्थापक चौहान राजा अजयपाल का स्मृति रूपी यह प्राचीन मंदिर जो अजोगंध महादेव मंदिर के नाम से जाना […]

पृथ्वीराज चौहान: महानतम हिन्दू शासक

Prithviraj Chauhan : The Great Hindu King लेखक : सचिन सिंह गौड़, संपादक, सिंह गर्जना भारत वर्ष के अंतिम हिन्दू सम्राट पृथ्वीराज चौहान को उनकी जयंती पर समर्पित खोज परक लेखों की एक विशेष श्रंखला जिसका उद्देश्य पृथ्वीराज चौहान के विराट और महान व्यक्तित्व को सही ढंग से प्रस्तुत करना है। पृथ्वीराज चौहान भारतीय इतिहास […]

राव हम्मीर देव, चौहान

“याद हमें है हल्दीघाटी और हठी हमीर” राव हम्मीर देव चौहाण रणथम्भौर “रणतभँवर के शासक थे। ये पृथ्वीराज चौहाण के वंशज थे। इनके पिता का नाम जैत्रसिंह था। ये इतिहास में ‘‘हठी हम्मीर के नाम से प्रसिद्ध हुए हैं। जब हम्मीर वि.सं. १३३९ (ई.स. १२८२) में रणथम्भौर (रणतभँवर) के शासक बने तब रणथम्भौर के इतिहास […]

पृथ्वीराज चौहान : महानतम राजपूत शासक

भारत वर्ष के अंतिम हिन्दू सम्राट पृथ्वीराज चौहान (Prithviraj Chauhan) को उनकी जयंती पर समर्पित खोज परक लेखों की एक विशेष श्रंखला जिसका उद्देश्य पृथ्वीराज चौहान के विराट और महान व्यक्तित्व को सही ढंग से प्रस्तुत करना है। पृथ्वीराज चौहान भारतीय इतिहास का एक ऐसा चेहरा है जिसके साथ वामपंथी और धर्मनिरपेक्ष इतिहासकारों ने सबसे […]

Ashapura Mata चौहान वंश की कुलदेवी आशापुरा माता

Ashapura Mata : नाडोल शहर (जिला पाली,राजस्थान) का नगर रक्षक लक्ष्मण हमेशा की तरह उस रात भी अपनी नियमित गश्त पर था। नगर की परिक्रमा करते करते लक्ष्मण प्यास बुझाने हेतु नगर के बाहर समीप ही बहने वाली भारमली नदी के तट पर जा पहुंचा। पानी पीने के बाद नदी किनारे बसी चरवाहों की बस्ती पर […]

1 2 3 12