माइक्रोसोफ्ट का you may victim of software वाला सन्देश कैसे हटाएँ ?

माइक्रोसोफ्ट का you may victim of software वाला सन्देश कैसे हटाएँ ?


आज से तीन साल पहले एक मित्र ने सहारा का नया लेपटोप ख़रीदा था | तीन चार महीने बाद जब भी लेपटोप चालू किया जाता माइक्रोसोफ्ट का एक चेतावनी भरा सन्देश आता you may be a victim of software counterfeiting |
सन्देश देखकर मित्र घबरा गए उन्होंने मुझसे भी सलाह मांगी लेकिन उस वक्त मुझे भी कंप्यूटर के सम्बन्ध में प्रयाप्त ज्ञान नहीं था कई और जानकार मित्रों ने यही बताया कि लेपटोप विक्रेता ने हो सकता है एक्सपी का ट्राइल वर्जन इंस्टाल कर दिया होगा जिसकी मियाद ख़त्म होने के बाद अब माइक्रोसोफ्ट आपको चेतावनी सन्देश भेज रही है और आप कभी भी फंस सकते है आखिर कईयों की सलाह और डर के मारे मित्र ने लेपटोप किसी हार्डवेयर इंजिनियर को बुला कर फोर्मेट ही करवा डाला |
अब जब हम भी कंप्यूटर के बारे में थोडा जानने लगे है तब पता लगा कि इस तरह का सन्देश देने वाली फ़ाइले तो पहले ही विण्डो एक्सपी में मौजूद रहती है और इन्हें आसानी से हटाया जा सकता है | तो आईये अब चर्चा करते है इन्हें हटाने के तरीके पर –
१- सबसे पहले my computer की C Drive खोले
२- अब windows नाम का फोल्डर खोलकर उसमे system32 नाम का फोल्डर खोलें |
३- system32 फोल्डर में ये दो फ़ाइले खोजे – 1- Wgalogon.dll 2- WgaTray

४- हमें इन दोनों फाइल्स को हटाना है लेकिन हम कितनी भी कोशिश करे ये डिलीट नहीं होती
अतः इन्हें १-यहाँ से कट कर कहीं अन्य जगह पेस्ट कर दे २- या इनका नाम बदल दें
अब कंप्यूटर रिस्टार्ट करे उपरोक्त सन्देश आना बंद हो जायेगा |;

25 Responses to "माइक्रोसोफ्ट का you may victim of software वाला सन्देश कैसे हटाएँ ?"

  1. अशोक मधुप   October 20, 2009 at 4:34 pm

    शानदार जानकारी

    Reply
  2. P.N. Subramanian   October 20, 2009 at 4:51 pm

    इतना सुन्दर सस्ता और टिकाऊ उपाय बताया आपने. आभार.

    Reply
  3. बवाल   October 20, 2009 at 5:21 pm

    बहुत बहुत धन्यवाद रतन जी।

    Reply
  4. राज भाटिय़ा   October 20, 2009 at 6:38 pm

    मजे दार जी.
    धन्यवाद

    Reply
  5. पं.डी.के.शर्मा"वत्स"   October 20, 2009 at 7:16 pm

    बढिया उपयोगी जानकारी……
    धन्यवाद्!

    Reply
  6. Udan Tashtari   October 21, 2009 at 12:27 am

    बेहतरीन जानकारी…

    Reply
  7. Vivek Rastogi   October 21, 2009 at 2:48 am

    बहुत बढ़िया जानकारी।

    Reply
  8. गिरिजेश राव   October 21, 2009 at 3:29 am

    इसे उन्हें भी भेज दीजिए ताकि उन्हें मालूम हो कि ऐसे दिमागहीन जुगाड़ भारत में नहीं चलेंगे।

    Reply
  9. ताऊ रामपुरिया   October 21, 2009 at 4:07 am

    बहुत अच्छी जानकारी.

    रामराम.

    Reply
  10. लवली कुमारी / Lovely kumari   October 21, 2009 at 4:39 am

    अच्छी जानकारी दी आपने ..धन्यवाद.

    …गिरिजेश भाई की टिप्पणी पढ़ कर मेरी हंसी नही रुक रही हा हा हा.

    Reply
  11. neelima sukhija arora   October 21, 2009 at 8:05 am

    अच्छी जानकारी

    Reply
  12. Mishra Pankaj   October 21, 2009 at 12:07 pm

    सुन्दर जानकारी , सच में आपने एक नयी बात बतायी है मुझे आज

    Reply
  13. जी.के. अवधिया   October 21, 2009 at 1:33 pm

    मेरी जानकारी के अनुसार ये सन्देश तभी आता है जब कम्प्यूटर में पायरेटेड एक्स पी रहता है और आटोमेटिक अपडेट सक्षम रहने या फिर स्वयं किसी अपडेट को डाउन लोड करने पर माइक्रोसॉफ्ट इसे डिटेक्ट कर लेता है। आटोमेटिक अपडेट अक्षम रखने और कोई भी अपडेट डाउनलोड न करने पर यह सन्देश कभी नहीं आयेगा।

    बहुत काम की जानकारी दी है आपने क्योंकि हमारे देश में तो नकली माल का ही ज्यादा चलन है!

    Reply
  14. Ratan Singh Shekhawat   October 21, 2009 at 2:17 pm

    अवधिया जी आप सही कह रहे है ये पायरेटेड विण्डो में ही प्रॉब्लम आती है खरीदी हुई में तो आएगी नहीं | और जहाँ तक मुझे पता है भारत में ९०% कंप्यूटर में पायरेटेड विण्डो ही मिलेगी |

    Reply
  15. जय जुगाड़ गुरू की!
    हमारे एम एस ऑफिस में यह आने लगा है कि हम चोर हैं! जबकि विण्डो विस्टा नियमबद्ध अपडेट होता है! 🙂

    Reply
  16. acchi jaankaari

    Reply
  17. anitakumar   October 22, 2009 at 6:25 pm

    धन्यवाद्…हम भी इस समस्या से पिछले कई महीनों से जूझ रहे थे और सब तकीनीकी ज्ञाता ये ज्ञान दे रहे थे कि फ़ोरमेट करवा लो और विन्डोस दोबारा अप लोड करो जो हम करना नहीं चाहते थे, आप के बताये नुस्खे से इस समस्या से निजात पा लिए लेकिन अभी भी एक मैसेज और आ रहा है कि आप की विन्डोज जेन्युनिन नहीं हैं उसका क्या करें

    Reply
  18. anitakumar   October 22, 2009 at 6:27 pm

    आप ने ऊपर जो चित्र दिखाये हैं वो दोनों मेरे पी सी पर स्टार्ट करने पर दिखाई देते थे उसमें से एक चला गया एक बाकी है क्या उसी प्रक्रिया को दोहराया जाए?

    Reply
  19. Ratan Singh Shekhawat   October 23, 2009 at 1:21 am

    अनीता जी यदि इतना करने के बाद भी ये सन्देश आ रहा है तो फिर इन फाइल्स को रजिस्ट्री से भी हटाना पड़ेगा जिसका तरीका में आपको जल्द ही मेल कर दूंगा |

    Reply
  20. कुन्नू सिंह   October 24, 2009 at 1:10 am

    रतन जि, यह पूरी तरह से हटा नही है,

    फाईल ईसलिये डिलीट नही होता क्यों की वह यूज मे होता है

    अगर डिलीट करना चाहते हैं तो Safe Mode मे ओपन करें

    और वो जो दो फाईलें हैं उनमे से एक को नोटपैड मे ओपन कर के उसके अंदर के सभी कोड डीलीट कर के उसे सेव करना होता है।

    और अपडेट को डिसेबल कर दें क्यों की डीसेबल नही करने पर फिर से वही लोड हो जाएगा और फिर आने लगेगा "You may victim"

    Reply
  21. geet4u.blogspot.com   October 24, 2009 at 7:47 am

    bhut hi kaam ki baat batai hai aapne…. aapke blog ki yahi khasiyat hai ki faltoo tricks ke bajay bahut hi kaam ki chiijen batate hain aap bahut bahut dhanyawad.

    Reply
  22. काजल कुमार Kajal Kumar   October 24, 2009 at 5:18 pm

    बहुत बहुत धन्यवाद. इससे तो मैं भी कभी कभी किसी किसी कंप्यूटर पर बहुत परेशान होता था. अब देखता हूं …:)

    Reply
  23. ललित शर्मा   October 25, 2009 at 12:21 pm

    रतन सिंग जी ओ लफ़ड़ो म्हारा भी कम्पुटर मै चालु हुई ग्यो, मन्ने तो वो दोनु फ़ाईल ही नही मिली
    घणो ही ढुंढ्यो, कोई रास्तो काढो, कम्पुटर चालु करतां ही पण्डां की नाई आय के सामणे खड़े हो जा सै,

    Reply
  24. नरेन्द्र राठौर   March 10, 2014 at 4:19 am

    Windows 7 में भी this copy of windows is not genuine संदेश आता है इसके लिए क्या करना चाहिए. क्योंकि Windows 7 में तो 1- Wgalogon.dll 2- WgaTray ये दोनों फइलें होती ही नहीं है.

    Reply
  25. नरेन्द्र राठौर   March 10, 2014 at 4:24 am

    Windows 7 में भी This copy of windows is not genuine संदेश आता है क्या करना चाहिए.क्येंकि Windows 7 में तो 1- Wgalogon.dll 2- WgaTray ये दोनों फाइल होती ही नहीं है.

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.