शहीद Thakur Ranmat Singh Baghel प्रतिमा विवाद : ये है राजनीति

शहीद Thakur Ranmat Singh Baghel प्रतिमा विवाद : ये है राजनीति

केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह मुख्यमंत्री शिवराज सिंह की मौजूदगी में 20 मई को कोठी में शहीद Thakur Ranmat Singh Baghel की प्रतिमा का अनावरण करेंगे। कार्यक्रम को लेकर सांसद गणेश सिंह पटेल सहित भाजपा तैयारी में जुटी है वहीं स्थानीय क्षत्रिय संगठन प्रतिमा के आकार को लेकर उद्वेलित है और बड़ी प्रतिमा लगाए जाने की मांग कर रहे हैं| यही नहीं प्रदेश में सदियों तक राज करने वाली कांग्रेस, जिसने शहीद Thakur Ranmat Singh Baghel की प्रतिमा लगाने की कभी कवायद नहीं की, वह भी प्रतिमा के आकार को लेकर विरोध में उतर आई है| स्थानीय वेब साईट रीवारियासत.कॉम की रिपोर्ट को माने तो प्रतिमा को लेकर दोनों दल अपने-अपने राजनीतिक समीकरण बैठाने में जुट गए हैं।

रीवारियासत.कॉम के अनुसार “राजनीतिक हल्कों में प्रतिमा अनावरण को लेकर जो गरमी नजर आ रही है उसके पीछे जानकारों का कहना है कि पूरा मामला आसन्न विधानसभा के समीकरणों से जुड़ा हुआ है। राजनीति विश्लेषकों का कहना है कि विंध्य में कांग्रेस की मुख्य धुरी अजय सिंह हैं और उनका प्रभाव क्षत्रिय समाज में काफी है। इधर भाजपा विधानसभा चुनावों की जमीनी तैयारी शुरू कर चुकी है। ऐसे में पार्टी अपना हर कमजोर पक्ष मजबूत करने में जुटी है और विंध्य में जातिगत समीकरण काफी मायने रखते हैं। इसलिए शहीद ठाकुर रणमत सिंह की प्रतिमा अनावरण के बहाने उसने एक बड़ा राजनीतिक दांव भी खेला है।

प्रतिमा के आकार को लेकर आज क्षत्रिय वीर ज्योति मिशन के संयोजक कुंवर राजेन्द्रसिंह नरुका ने सतना सांसद गणेश सिंह पटेल से फोन पर वार्ता कर क्षत्रिय युवाओं के रोष के बारे में जानकारी देते हुए बड़ी प्रतिमा लगाने का अनुरोध किया| इस पर सांसद ने बताया कि स्वतंत्रता सेनानी Thakur Ranmat Singh Baghel का चित्र उनके परिवार ने उपलब्ध कराया, उसी के अनुरूप प्रतिमा बनाई गई है| सांसद के अनुसार ठाकुर रणमत सिंह जी का कोई बड़ा चित्र उपब्ध नहीं है ऐसे में कल्पना के आधार पर प्रतिमा बनवाना शहीद के साथ न्याय नहीं होगा| नरुका के साथ फोन वार्ता में सांसद ने स्वीकार भी किया कि यदि कोई भी व्यक्ति शहीद का चित्र उपलब्ध करवा दें तो दूसरी बड़ी प्रतिमा बनवा दी जायेगी|

प्रतिमा के आकार को लेकर विरोध करने वाले युवाओं को भी स्थिति समझनी चाहिये और हर अच्छे कार्य का विरोध करने की मानसिकता से बाज आना चाहिए| आज कांग्रेस प्रतिमा पर सवाल उठा कर क्षत्रिय युवाओं को भड़का रही है जबकि सदियों तक प्रदेश में शासन करने के बावजूद कांग्रेस ने कभी प्रतिमा लगाने का प्रयास तक नहीं किया| ऐसे में क्षत्रिय युवाओं को समझना चाहिए कि कोई राजनैतिक दल उनकी भावनाओं को उभार कर राजनीति तो नहीं कर रहा|

Thakur Ranmat Singh Baghel story in hindi, Thakur Ranmat Singh Baghel statue vivad

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.