आखिर फाँस ही लिया हमने रामबाबू सिंह को हिंदी ब्लोगिंग जाल में

चिट्ठाजगत से मिलने वाली डाक में समीर जी का सन्देश पढने के बाद कि नया हिंदी चिट्ठा शुरू करवाए तब से हिंदी ब्लोगिंग को बढ़ावा देने के उद्देश्य से मेरी अक्सर कोशिश रहती है कि किसी मित्र से नया हिंदी ब्लॉग शुरू करवाया जाय पर मेरे मित्रों में ज्यादातर इन्टरनेट का इस्तेमाल नहीं करते और […]

दीवाली की खुशियाँ, प्रदूषण और ब्लॉग ट्रेफिक

दीपावली आई अपने साथ ढेरों खुशियाँ और उपहारों के साथ ढेरों शुभकामना सन्देश लाई लेकिन इन सब खुशियों का इजहार करने के लिए हम ने जो पटाखे छोड़े उन्होंने प्रदूषण भी जम कर फैलाया | दीपावली वाली रात्री को प्रदूषण का आलम यह था कि घर के बाहर निकलते दम घुट रहा था चारों और […]

उतर प्रदेश के खेतो में बाजरे की लहलहाती फसल

कम वर्षा ,रेतीली अनुपजाऊ भूमि में भी अच्छी पैदावार देने की वजह से बाजरा राजस्थान में होने वाली फसलों में मुख्य फसल है | राजस्थान के हर घर में बाजरा बड़े शौक से खाया जाता है खास कर सर्दियों में तो बाजरा हर एक की खाने में पहली पसंद होता है | बाजरे की रोटी […]

गूगल की कमजोरी

सर्च इंजन की दुनिया में अगर किसी की हकुमत चलती है, तो वो है गूगल | किसी बात को सर्च करने की बात हुई ,तो यु आर अल (यूनिफार्म रिसोर्स लोकेटर ) पर जो नाम सहज ही टाइप हो जाता है | लेकिन हमारा यह फेवरेट सर्च इंजन भी कुछ मामलों में कमजोर है |ज्यादा […]

1 4 5 6