मिलजुल कर कृषि कार्य करना और ल्हास रूपी दावत का मजा

मिलजुल कर कृषि कार्य करना और ल्हास रूपी दावत का मजा

भारत की समृद्ध भाषाओँ में हर कार्य के लिए अलग-अलग शब्द प्रयुक्त किये गए है। कृषि कार्य में भी किये जाने वाले हर कार्य को अलग-अलग नामों से जाना जाता है जैसे फसल में खड़ी खरपतवार को निकालने के लिए हमारे यहाँ राजस्थान में “निनाण” करना कहते है, फसल में पानी देने को “पाणत”, बाजरे […]