भूस्वामी आन्दोलन आजादी के बाद राजपूतों का पहला बड़ा आन्दोलन

भूस्वामी आन्दोलन आजादी के बाद राजपूतों का पहला बड़ा आन्दोलन

Bhoo Swami Aandolan 1956 by Rajput Community In Rajasthan : भूस्वामी आन्दोलन : आजादी के बाद राजपूतों का पहला व सबसे बड़ा आन्दोलन| आजादी के बाद कांग्रेस नेताओं ने राजपूत जाति को शक्तिहीन करने के लिए सत्ता का प्रयोग करते हुए उनकी जागीरें समाप्त करने हेतु जागीरदारी उन्मूलन कानून बनाकर आर्थिक प्रहार किया, ताकि आर्थिक […]

स्व. आयुवानसिंह शेखावत,हुडील : परिचय

स्व. आयुवानसिंह शेखावत,हुडील : परिचय

कुंवर आयुवानसिंह शेखावत नागौर जिले के हुडील गांव में ठाकुर पहपसिंह शेखावत के ज्येष्ठ पुत्र थे आपका जन्म १७ अक्टूबर १९२० ई.को अपने ननिहाल पाल्यास गांव में हुआ था|आपका परिवार एक साधारण राजपूत परिवार था|आपका विवाह बहुत कम उम्र में ही जब आपने आठवीं उत्तीर्ण की तभी कर दिया| शिक्षा व अध्यापन कार्य :- राजस्थान के […]

वर्ण-व्यवस्था कि उत्पत्ति और पतन

कुँवरानी निशा कँवर नरुकाजैसा कि आदरणीय श्री देवी सिंह जी महार साहब ने “हमारी भूलें” के जरिये यह समझाने का सफल प्रयत्न किया है कि सभी धर्म शास्त्र जोकि वर्तमान में प्रचलित है| यह मूल ,संस्करण नहीं है | मूल संस्करणों को जानबूझकर बुद्धिजीवीयों(जो केवल बुद्धि को व्यवसाय बना बैठा हो ) ने ओझल कर […]