वाह री ! मोबाइल पोर्टिबिलिटी

वाह री ! मोबाइल पोर्टिबिलिटी

मेरे पास एयरटेल मोबाइल का पोस्ट पेड कनेक्शन है जिसके प्लान के तहत 299.00रु.मासिक किराये पर 750 मिनट लोकल कॉल फ्री होती है कॉल रेट 0.30 मोबाइल से मोबाइल,0.50 मोबाइल से लैंडलाइन,0.75 एसटीडी,रोमिंग 1.00 इनकमिंग और 1.50 आउटगोइंग थी| चूँकि मेरी लोकल कॉल जितनी फ्री में मिलती थी उतनी इस्तेमाल नहीं हो पाती थी अत: बाकी समय मेरे लिए बेकार जाता था जबकि एसटीडी के इस्तेमाल पर उसका बिल और बढ़ जाता था साथ ही मेरे फोन में GPRS की सुविधा भी नहीं थी, जो मांगने पर बताया गया कि 198 रु.में आपको 2 जीबी मिलेगा, जबकि यही 2 जीबी दूसरे सेवा प्रदाता सिर्फ 98 रूपये में देते है|

मैंने एयरटेल से कई बार अनुरोध किया कि मुझे फ्री मिलने वाला समय एसटीडी में समायोजित किया जाय और 98 रूपये में GPRS की सुविधा प्रदान की जाय बेशक आप इतने रुपयों में मुझे मात्र एक जीबी का ही इस्तेमाल करने की छूट दे दीजिए क्योंकि मेरा फोन पर GPRS का इस्तेमाल कभी कभार ही होता है| मेरे कई बार अनुरोध करने के बाद भी कभी एयरटेल ने मेरी नहीं सुनी अत: यह सोचकर कि इनसे अनुरोध करना भैंस के आगे बीन बजाने जैसा है,इनसे सौदेबाजी करनी है तो मोबाइल पोर्टिबिलिटी सुविधा का प्रयोग किया जाय| क्योंकि पहले जब मैंने एयरटेल का ब्रॉडबैंड कनेक्शन हटवाया था तब न हटाने के लिए एयरटेल ने जो सौदेबाजी की उसका मुझे अनुभव था|

जैसे ही मैंने मोबाइल पोर्टिबिलिटी के लिए दूसरे मोबाइल सेवा प्रदाता के यहाँ आवेदन किया, एयरटेल वालों ने मुझे रोकने के लिए सौदेबाजी शुरू कर दी, कई फोन आये और उन्होंने घुमा फिराकर मुझे बेवकूफ बना बरगलाने की कोशिश की ताकि मुझे एयरटेल के साथ रखा जा सके, घुमाफिराकर,फायदे के सब्जबाग दिखाकर रोकने वालों को मैंने साफ कह दिया कि भाई हम भी “ताऊ मेनेजमेंट यूनिवर्सिटी” के पास आउट है इसलिए हमें बनाने की कोशिश न की जाय जो हमें चाहिए वो दे दिया जाए तो हमें एयरटेल से कोई दिक्कत नहीं, और वे नहीं दे सकते तो हम तो दूसरे सेवा प्रदाता के यहाँ जा ही रहे है जहाँ हमें वह सब मिल रहा जो हमें चाहिए| आखिर बात उनके समझ आ गयी कि ये “ताऊ यूनिवर्सिटी” का डिप्लोमा होल्डर आसानी से फंसने वाला नहीं है|

शायद यह बात समझ एयरटेल से एक चौथे भाईसाहब का फोन आया और उन्होंने जो हम 299+98=397 रूपये में जो मांग रहे थे उससे भी आगे बढ़कर हमें जो वे दे सकते थे बताना शुरू किया कि – 397 रु. के बदले 249+98=347 रूपये में 600 मिनट का समय चाहे आप लोकल कॉल या एसटीडी जिसमे चाहे इस्तेमाल करें,STD रेट 0.75 रु.की जगह 0.50 रु.,रोमिंग जो 1.00 व 1.50 रु.थी वह 0.60 व 0.80 रु. लगेगी और साथ में 1 GB GPRS और यही नहीं हमारे द्वारा उनकी बात मानने की खुशी में दो महीने तक मोबाइल किराया एकदम फ्री |

देखा मोबाइल उपभोक्ताओं को कितना बढ़िया औजार थमाया गया है “मोबाइल पोर्टिबिलिटी”| जब बड़ी विनम्रता से मैं उनसे जो सुविधाएँ मांग रहा था तब एयरटेल के कानों पर जूँ तक नहीं रेंगी पर इस हथियार का इस्तेमाल करते ही जो मैं विन्रमता से मांग रहा था उससे भी ज्यादा और वो भी कम दामों में एयरटेल ने मुझे मुहैया करवा दी| इससे साफ जाहिर है कि घी कभी सीधी अंगुली से नहीं निकलता और मोबाइल सेवा प्रदाता कंपनियों से सौदेबाजी के लिए ट्राई ने अंगुली टेढ़ी करने के लिए एक शानदार हथियार “Mobile Number Portability” उपभोक्ताओं को थमा दिया|

यदि आपको भी अपने मोबाइल सेवा प्रदाता से अपना फोन का बिल कम करना है तो इस शानदार हथियार “Mobile Number Portability” का प्रयोग करें|

मोबाइल उपभोक्ताओं को “Mobile Number Portability” नामक हथियार उपलब्ध कराने के लिए ट्राई तेरा बहुत बहुत आभार! वो भी हार्दिक वाला!

सभी चित्र गूगल खोज परिणामों से|

15 Responses to "वाह री ! मोबाइल पोर्टिबिलिटी"

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.