बढ़िया व्यवसाय है मेट्रीमोनियल वेब साईट

बढ़िया व्यवसाय है मेट्रीमोनियल वेब साईट

इन्टरनेट पर किये जाने वाले व्यवसायों में मेट्रिमोनियल वेब साईट चलाना बहुत बढ़िया व्यवसाय है| जिसका उदाहरण शादी.कॉम, भारत मेट्रीमोनी आदि वेब साईटस् से देखा जा सकता है| आजकल भागदौड़ भरी व्यस्त जिंदगी में लोग चाहते है कि उन्हें अपने बच्चों के लिए भावी वर वधु का चुनाव करने के लिए सारी जानकारियां घर बैठे मिल जाए और उन्हीं जानकारियों में से चुनकर वे अपने पसंदीदा लोगों से बात कर रिश्ता तय कर सके|
अब ऐसा कार्य तो एक वेब साईट ही बढ़िया तरीके से कर सकती है चूँकि मेट्रिमोनियल वेब साईट में हजारों शादी योग्य लोगों के प्रोफाइल होते है और सबसे बढ़िया बात यह कि उनमें से चुनने के लिए भी वेब साईटस् में बहुत अच्छे विकल्प होते है जैसे- आप शिक्षा के क्षेत्र के हिसाब से प्रोफाइल छांट सकते है , शिक्षा,रोजगार का क्षेत्र,जाति, स्थान के हिसाब से भी प्रोफाइलस् छांट कर चुनाव कर सकते है|
शुरू में शादी.कॉम जैसी वेब साईट चालू करने के लिए वेब साईट बनवाना बहुत महंगा पड़ता था और काफी समय भी लगता था, साथ ही वेब साईट में बहुत सी कमियां भी रह जाती थी जो बाद में ठीक करवाने या कोई और सुविधा वेब साईट में जुड़वाने के लिए वेब मास्टरों के पीछे चक्कर लगाने पड़ते थे व खर्चा भी करना पड़ता था|
पर आजकल ऐसा नहीं है इस तरह की वेब साईट बनवाना बहुत आसान हो गया है इन्टरनेट पर कई वेब डिजाइन कंपनियां इस तरह की वेब स्क्रिप्ट बनाकर सस्ते में बेचती है, उनका डेमों भी देखने के लिए उपलब्ध होता है अत: तीन चार डेमों देखकर व उनमें उपलब्ध सुविधाओं को देखकर उनमें से किसी एक स्क्रिप्ट का चयन कर आसानी से सस्ती वेब साईट बनवाई जा सकती है|

पिछले दिनों मैंने भी ऐसी एक वेब साईट बनवाने की सोच इस बारे काफी छानबीन कर स्क्रिप्ट खरीद अपने समुदाय के लिए एक वैवाहिक वेब साईट बनवाई| आज वह वेब साईट बिना ज्यादा प्रचार किये भी अपना कार्य बहुत अच्छे से कर रही है धीरे धीरे लोग अपने विवाह योग्य बच्चों का रजिस्ट्रेशन करवा कर इस वेब साईट का फायदा उठा रहे है|
हालाँकि आजकल वैवाहिक वेब साईट बनवाना तो बहुत आसान हो गया पर लोगों का मानना है कि प्रतिस्पर्धा के चलते ऐसी वेब साईटस् चलाना बहुत मुश्किल है पर मेरा मानना है कि ऐसा कुछ नहीं है, हो सकता है आपको थोड़ा समय लगे पर इस तरह की वेब साईट चलाना कोई मुश्किल कार्य नहीं है| फिर भी यदि कोई व्यक्ति जल्द सफल होना चाहे तो इसके लिए सबसे आसान उपाय है -पहले एक वेब साईट सिर्फ अपने समुदाय के लिए चलाये, थोड़ी मेहनत कर दो-तीन सौ प्रोफाइल इकठ्ठा करें ताकि आपकी साईट पर आने वाले को ये नहीं लगे कि-यहाँ कुछ मिलेगा भी की नहीं| यानि पहले दुकान में माल तो भरना ही पड़ेगा|
जब आपके दो तीन सौ मेंबर हो जाएं तब आप मेंबरशिप फीस लागू कर अपनी कमाई शुरू कर सकते है| और लोग भी अपने बच्चों के लिए अच्छे वर वधु की तलाश के लिए सहर्ष मेंबरशिप फीस देने को तैयार रहते है| मेरी वेब साईट मैंने समाज सेवा के लिए फ्री रखी हुई है फिर भी लोगों के मेंबरशिप फीस देने हेतु फोन आते है और फिर मुझे बताना पड़ता है कि साईट फ्री है तो बहुत खुश भी होते है|
फ्री में वैवाहिक वेब साईट चलाने के बावजूद मेरा अनुभव यही है कि यदि आपने सिर्फ अपने समाज के लिए ही वैवाहिक वेब साईट बनायीं है तो उसे चलाना और उससे कमाना सबसे आसान है| दूसरा उसनें प्रतिस्पर्धा भी कम रहती है|
अत: जो लोग इन्टरनेट पर कोई व्यवसाय कर घर बैठे कमाना चाहते है उनके लिए वैवाहिक वेब साईट बहुत बढ़िया व्यवसाय है और हां इस तरह की वेब साईट सस्ते में बनवाने के लिए आप मुझसे संपर्क कर सकते है और मेरे अनुभव का फायदा उठा सकते है|

नोट : आजकल वैवाहिक वेब साईट बनवाना महंगा नहीं रहा| बनी बनायीं वेब स्क्रिप्ट से वेब साईट तुरंत बन जाती है और वो भी कम खर्च में महज सात से दस हजार रूपये के बीच|

3 Responses to "बढ़िया व्यवसाय है मेट्रीमोनियल वेब साईट"

  1. ताऊ रामपुरिया   July 16, 2012 at 7:37 am

    रोजगार एवम समाज सेवा हेतु बहुत उपयोगी सलाह मिली, शुभकामनाएं.

    रामराम.

    Reply
  2. Bhagat Singh Panthi   July 17, 2012 at 6:42 am

    शेखावत जी यहाँ भोपाल में बहुत से प्रेस से जुड़े हुये लोग जिनकी मंथली पत्रिका निकलती है या जो पत्रकार लोग हैं अपनी न्यूज बेवसाइट वनवाने के लिये मुझसे पूछताछ करते हेँ तो मै उन्हें किसी आईटी कम्पनी की ओर फारवर्ड कर देता हूँ लेकिन अधिकतर लोग यह बताते हैं कि अधिकतर कम्पनियाँ बहुत ज्यादा पैसा मांग रही हैं जैसे 10 से 15 हजार रू तक। और मैने देखा है कि कुछ लोग वर्डप्रेस की सीएमएस वेस्ड न्यूज बेवसाईट बना कर लोगों को धड़कल्ले से बेच रहे हैं। यदि आपके पास इस तरह की न्यूज बेवसाइर्ट संबंधित कोई स्क्रीप्ट हो वेब होस्टिंग के साथ तो बताएँ ताकि मै भी यहाँ आपका प्रतिनिधि बन कर कुछ कमा सकंू।

    Reply
  3. प्रवीण पाण्डेय   July 17, 2012 at 4:10 pm

    इससे लोगों का भला हो जाये, उससे प्रभावी और कुछ भी नहीं..

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.