32.8 C
Rajasthan
Saturday, May 28, 2022

Buy now

spot_img

जीवा आयुर्वेद का ऑनलाइन आयुर्वेद केंद्र : जीवा टेली मेडिसिन सेंटर

26 अप्रेल की फरीदाबाद स्थित विश्व में भारतीय आयुर्वेद का झंडा बुलंद करने वाली संस्था “जीवा आयुर्वेद” Jiva Ayurveda का अपनी तरह का पहला और विश्व का सबसे बड़ा “ऑनलाइन आयुर्वेद केंद्र” Online Ayurved Call Center “जीवा टेली मेडिसिन सेंटर” देखने का अवसर मिला. 1994 में शुरू हुए इस आयुर्वेद केंद्र में 400 आयुर्वेद डाक्टर्स देशभर से रोगियों के आने वाले फोन पर रोग के बारे में चर्चा कर उन्हें निशुल्क स्वास्थ्य परामर्श देते है, साथ ही जरुरत की अच्छी गुणवत्ता वाली आयुर्वेद दवा जो वे खुद बनाते है डाक या कुरियर से सस्ते दामों में रोगी के घर तक उपलब्ध करा देते है. इस तरह दूर दराज के क्षेत्रों में रहने वाले रोगी को जिसे अपने क्षेत्र में विश्वसनीय चिकित्सा सुविधा की कमी के चलते नीम हकीमों पर निर्भर रहना पड़ता है कोप घर बैठे विशेषज्ञ डाक्टर्स के परामर्श से दवा उपलब्ध हो जाती है.

Jiva समूह के चेयरमैन ऋषिपाल चौहान के अनुसार उनके संस्थान के 400 डाक्टर प्रतिदिन 1800 से ज्यादा शहरों व गांवों के छ: हजार से ज्यादा रोगियों को फोन पर निशुल्क परामर्श देते है. चौहान बताते है कि हम जो दवा देते है उसका उत्पादन हम खुद करते है तथा अपने किसी उत्पाद को बाजार की किसी दूकान पर बेचने के बजाय हम सीधे रोगी को दवा देते है, यदि मेरी दवा से रोगी ठीक नहीं हुआ तो यकीनन मेरी दूकान बंद हो सकती है. अत: हम अपनी दवाओं की गुणवत्ता पर ख़ास ध्यान देते है. यही हमारी सफलता का राज है. साथ ही चौहान बताते है कि एक रोग की दवा उसी रोग वाले हर रोगी का उपचार नहीं कर सकती. चौहान उदाहरण देते है कि यदि एक दवा जो केरल के रोगी का सही उपचार कर देगी जरुरी नहीं कि वही दवा कश्मीर में रहने वाले उसी रोगी के रोग का उपचार कर दे. अत: रोगी की प्रकृति, रोगी के क्षेत्र की प्रकृति के आधार पर हमारे संस्थान के विशेषज्ञ आयुर्वेदाचार्य रोगियों का इलाज करते है.

अपने इस ऑनलाइन आयुर्वेद केंद्र के निर्माण को भी चौहान ने आयुर्वेद व प्रकृति से जोड़ रखा है. केंद्र के एक फ्लोर पर दीवारों की सजावट व कुर्सी टेबल्स सिर्फ बांस की बनी है तो दुसरे फ्लोर पर जहाँ कम्प्यूटर्स का ज्यादा इस्तेमाल होता, दीवारों आदि की लिपाई-पुताई गोबर से की गई है. गोबर से पुताई के बारे में चौहान बताते है कि गोबर कम्प्यूटर्स से निकलने वाले विकिरण को सोख लेता है, वहीं कमरे का तापमान बढ़ने से रोकता है. जो निश्चित ही वहां काम करने वाले कर्मचारियों के लिए स्वास्थ्यवर्धक है.

यदि आप भी Jiva Ayurveda से घर बैठे परामर्श चाहते है 0129-4040404 पर फोन करें

Related Articles

2 COMMENTS

  1. आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल शनिवार (02-05-2015) को "सारी दुनिया का बोझ हम उठाते हैं" (चर्चा अंक-1963) पर भी होगी।

    सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।

    श्रमिक दिवस की हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
    सादर…!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक
    —————

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Stay Connected

0FansLike
3,333FollowersFollow
19,700SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles