अब मोबाइल एप के माध्यम से इतिहास पढ़े

अब मोबाइल एप के माध्यम से इतिहास पढ़े

मोबाइल पर इन्टरनेट के बढ़ते प्रयोग ने जहाँ सूचना और तकनीकी क्षेत्र में क्रांति की है वहीं मोबाइल में एंट्रोयिड नामक ऑप्रेटिंग सिस्टम आया है तब से मोबाइल ने कंप्यूटर, लेपटॉप और टैब को पीछे छोड़ दिया| इसका सबसे बड़ा कारण एंट्रोयिड ऑप्रेटिंग सिस्टम का ऑपन सोर्स होना है| यह एंट्रोयिड ऑप्रेटिंग सिस्टम के ऑपन सोर्स का ही कमाल है कि आज थोड़ा सा तकनीकी ज्ञान रखने वाला व्यक्ति मोबाइल पर प्रयुक्त होने वाली एप्लीकेशन स्वयं बनाकर इस्तेमाल कर सकता है और वही एप्लीकेशन गूगल प्ले के माध्यम से औरों को भी इस्तेमाल हेतु उपलब्ध करवा सकता है|

यही नहीं इसके ऑपन सोर्स होने से कई एप्लीकेशन डेवलपर्स ने आम जीवन में काम आने वाली ढेरों एप्लीकेशन बनाकर मुफ्त या थोड़े शुल्क में आम प्रयोगकर्ताओं को उपलब्ध करवा दी| आज मोबाइल में त्वरित सन्देश भेजने के लिए लोग एसएमएस भेजना भूलकर वाट्सएप पर निर्भर है| सोचिये यही एंट्रोयिड ऑप्रेटिंग सिस्टम ऑपन सोर्स नहीं होता तो क्या वाट्सएप संभव होता|

वाट्सएप ही क्यों गूगल प्ले पर आज हर आयु वर्ग के लिए उनकी जरुरत की ढेरों एप्लीकेशन उपलब्ध है, छात्रों के लिए पढ़ाई हेतु विषय से सम्बन्धित जानकारी से लैस एप मौजूद है तो प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी के लिए मोबाइल एप मौजूद है| बैंकिंग, चिकित्सा, रेल आरक्षण से लेकर दिल्ली में पानी के बिल भरने तक के लिए एप उपलब्ध है|

हर तरह के एप की उपलब्धता देखते हुए ज्ञान दर्पण.कॉम ने भी अपना मोबाइल एप उपलब्ध कराने के साथ साथ इतिहास पढने के शौक़ीन लोगों के लिए Indian History नाम से गूगल प्ले पर एक एप उपलब्ध कराया है, जिसमें इतिहास प्रेमी पाठक अपने मोबाइल में इतिहास पढ़ सकते है| यह एप में नियमित रूप से नई नई ऐतिहासिक जानकारियां जोड़ी जाती है ताकि इतिहास प्रेमियों को पुस्तकें खरीदनी व रखनी नही पड़े, सीधे अपने मोबाइल में जब भी उन्हें फुर्सत हो अपना प्रिय विषय इतिहास पढ़ सकते है|

इतिहास प्रेमी यह निम्न बटन पर चटका लगाकर गूगल प्ले से अपने एंट्रोयिड मोबाइल फोन में इनस्टॉल कर सकते है|

Hindi History Mobile App
Indian History Mobile App
Read Glorious History in Hindi through “Indian History” Mobile App

5 Responses to "अब मोबाइल एप के माध्यम से इतिहास पढ़े"

  1. Ravishankar Shrivastava   February 6, 2016 at 9:19 am

    वाह बहुत बढ़िया.
    यह ऐप्प कहां से कैसे बनवाया है?

    Reply
    • Ratan Singh Shekhawat   February 6, 2016 at 2:56 pm

      बहुत आसान है आप भी बना सकते है, Android Studio के माध्यम से !

      Reply
    • Ravishankar Shrivastava   February 7, 2016 at 4:37 am

      तो एक स्टेप बाई स्टेप ट्यूटोरियल लिख दीजिए या फिर कोई लिंक बताएँ जहाँ स्टेप बाई स्टेप ट्यूटोरियल हो – हिंदी में भी अनुवाद कर छाप देंगे.
      साथ ही, जैसे किसी उपन्यास (सामग्री टैक्स्ट या वर्ड फ़ाइल के रूप में) का ऐप्प बनाना हो तो उसकी भी विधि लिख दें. आभार होगा. बहुतों को लाभ होगा.

      Reply
  2. viram singh surawa   February 6, 2016 at 10:44 am

    Sir link kam nai kr rahi have. app download nai ho raha h

    Reply
  3. प्रवीण पाण्डेय   February 6, 2016 at 3:22 pm

    वाह, फैलती सुविधा..

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.