History of Banera Fort

Banera Fort का मेवाड़ के इतिहास में विशिष्ट स्थान रहा है| उदयपुर के महाराणा राजसिंह के पुत्र राजा भीमसिंह ने बनेड़ा रियासत की स्थापना की थी| वर्तमान भीलवाड़ा जिले में इस स्थित किले के राजा भीमसिंह ने मुगलों को अपनी तलवार के जौहर कई बार दिखलाए थे| भीमसिंह जब राजकुमार थे तब उन्होंने गुजरात पर आक्रमण किया और इडर के प्रमुख हसन को हराकर भगा दिया| यही नहीं भीमसिंह जब वीर नगर, पाटन सिद्धपुर और मोडासा को रोंदकर लूटते हुए सूरत की और बढ़ रहे थे, तब उनके डर से भागते हुए शरणार्थियों के दुःख की कहानी सुनकर उनके पिता राणा राजसिंह ने उन्हें जनहित में सैनिक अभियान बंद कर वापस आने का आदेश दिया|

औरंगजेब की क्रूरता का प्रतिकार कर उसे जबाब देने के लिए उसके शासन के क्षेत्रों को रोंदते हुए मुग़ल सेना की कई टुकड़ियों को मौत के घात उतार दिया और काजियों को पकड़कर उनकी दाड़ी काट दी और उनकी कुरानों को कुँए में फिंकवा दिया| चितौड़ के निकट युद्ध करने आये मुग़ल शहजादे आजम की सेना पर हमला कर उसे बुरी तरह पराजित भगा दिया|

राजा के बाद भीमसिंह इस किले पर राजा सूर्यमल, राजा सुरतान, राजा सरदारसिंह, राजा रायसिंह, राजा हमीरसिंह, राजा भीमसिंह द्वितीय, राजा उदयसिंह, राजा संग्राम सिंह, राजा गोविन्दसिंह, राजा अक्षयसिंह, राजाधिराज अमरसिंह ने देश की आजादी तक शासन किया|

जिले व राज्य कि राजनीति में बनेड़ा अहम स्थान रखता हैं । आजादी से पहले भी मेवाड़ की रियासत के रुप में बनेड़ा किले Banera Fort का अहम स्थान था जो कि इतिहास में भी दर्ज हैं । और आजादी के बाद जब भीलवाड़ा शहर में भी शिक्षा, बिजली , पेय जल व सड़क जैसी मूलभूत सुविधाएं नहीं थी लेकिन उस समय बनेड़ा नगरी में ये सब सुविधाओं उपलब्ध थीं । और इन सब सुविधाओं का श्रेय तत्कालीन राजाधिराज अमर सिंह जी बनेड़ा को जाता हैं जिन्होंने उस समय भी अपने निजी प्रयासों से इन सब सुविधाओं की उपलब्धता कराई ।

और सन् 1971 में बनेड़ा Banera Fort का नाम पूरे भारत में फिर छाया जब मात्र 25 वर्ष की उम्र में  राजाधिराज हेमेन्द्र सिंह बनेड़ा भारत देश की 5वीं लोकसभा के सबसे कम उम्र के युवा सांसद चुने गये और रिकार्ड बनाया जिसको आज तक भी कोई ना तोड़ पाया तथा उसके बाद 9वीं लोकसभा में भी सांसद रहे । तत्पश्चात् पूर्व सांसद हेमेन्द्र सिंह के लघु भ्राता मेजर पराक्रम सिंह भी बनेड़ा विधानसभा क्षेत्र से विधायक चुने गये ।

History of Banera Fort in Hindi, Banera Fort Histoy

2 Responses to "History of Banera Fort"

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.