टीवी वालों का कुबेर यंत्र और ताऊ

टीवी वालों का कुबेर यंत्र और ताऊ

टीवी पर कुबेर यंत्र बेचने वाली एंकर बता रही थी कि यह कुबेर यंत्र पन्द्रह दिन में आपके घर धन की वर्षा करने लगता है और आप धन से मालामाल हो जाते है, टीवी वाली उस कन्या ने इस धन वर्षा करने वाले कुबेर यंत्र की कुछ हजार रूपये कीमत भी बताई|

ताऊ ने जब टीवी पर इसके बारे में सुना तो उसे यह बढ़िया धन्धा लगा कि बिना कुछ किये सिर्फ कुछ हजार में एक कुबेर यंत्र खरीदना है और मालामाल हो जाना है, ना कोई चोरी. डकैती, राजनीति, लूटमार व बेईमानी करनी जो अक्सर ताऊ को अब तक करनी पड़ती थी| सो ताऊ ने उस टीवी सुकन्या द्वारा बताये नंबर पर एस.एम.एस ठोक दिया|
ताऊ का एस.एम्.एस मिलना ही था कि उधर से कुबेर यंत्र बेचने वाली कम्पनी से एक सुकन्या का बड़ी मधुर आवाज में ताऊ के सेल फोन पर फोन आ गया|

ताऊ ने शर्त रखी कि वह कुबेर यंत्र खरीदेगा पर पहले उसे उसके बारे में पूरी जानकारी चाहिये| यंत्र बेचने वाली कन्या ने ताऊ की शर्त मानते हुए जानकारी देना शुरू की कि – इस यंत्र को घर में हमारे द्वारा प्रदत दिशा निर्देशों के अनुसार स्थापित करने के पंद्रह दिन बाद आपके घर में धन वर्षा शुरू हो जायेगी आदि आदि कई जानकारियां उस सुकन्या ने ताऊ को बताई|

ताऊ – अब तक कितने लोगों के घर धन वर्षा हुई ?
कन्या – बहुत लोगों के घर, जिन्होंने यह यंत्र ख़रीदा !
पर ताऊ ठहरा एकदम पक्का ताऊ, पूछने लगा – आप इस टीवी पर सामान बेचने वाली दूकान में कितने वर्षों से नौकरी कर रही है|
कन्या – तीन वर्ष से !
ताऊ – आप पिछले तीन वर्षों से इस दूकान पर नौकरी कर रही है तो फिर आपने अब तक इस यंत्र से अपने घर धन वर्षा क्यों नहीं की ?
ताऊ की इस बात का उस कन्या के पास कोई जबाब नहीं था, फिर भी उसनें ताऊ को इधर उधर की बात कर टरका दिया, लेकिन ताऊ भी तो कम ना था|
बोला कितने यंत्र है आपकी दूकान में ?
यंत्र बेचने वाली कन्या ने बताया – १००० हजार !
ताऊ – ऐसा कीजिये इन सभी यंत्रों को गलाकर इनके दो यंत्र बनाईये और दोनों यंत्रों को भारत के किन्हीं दो सेटेलाइट्स पर स्थापित करवा दीजिये ताकि पुरे भारत पर धन वर्षा होती रहे ताकि देश की गरीबी मिटे और आप जैसी लड़कियों को भी नौकरी ना करने पड़े, और हाँ ये कर देंगी तो इन १००० यंत्रों की कीमत मैं देने को तैयार हूँ|

ताऊ की ये बात सुनते ही सेल्स गर्ल ने झुंझलाते हुए फोन पटक दिया|

11 Responses to "टीवी वालों का कुबेर यंत्र और ताऊ"

  1. Suman   April 6, 2014 at 4:37 am

    ताऊ के तीखे सटीक प्रश्नों से बच पाना बहुत मुश्किल है 🙂
    मस्त मजेदार सार्थक पोस्ट है !

    Reply
  2. प्रवीण पाण्डेय   April 6, 2014 at 5:41 am

    कर्महीन नर पावत नाहीं।

    Reply
  3. राजीव कुमार झा   April 6, 2014 at 10:26 am

    बहुत खूब !

    Reply
  4. HARSHVARDHAN   April 6, 2014 at 11:01 am

    ताऊ ने तो बड़े मज़ेदार तरीके से व्यंग्य कसते हुये, इस यंत्र की धज्जियाँ ही उड़ा दी। सादर।।

    नई कड़ियाँ : अप्रैल माह के महत्वपूर्ण दिवस और तिथियाँ

    एंड्राइड मोबाइल और टैबलेट पर डेन्ड्रोइड ( Dendroid ) नामक नये वायरस का खतरा

    Reply
  5. dr.mahendrag   April 6, 2014 at 12:09 pm

    मिला न सेर को सवा सेर.?

    Reply
  6. बहुत सुन्दर प्रस्तुति…!

    आपकी इस प्रविष्टि् की चर्चा आज सोमवार (07-03-2014) को "बेफ़िक्र हो, ज़िन्दगी उसके – नाम कर दी" (चर्चा मंच-1575) पर भी है!

    सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।

    हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
    सादर…!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

    Reply
  7. Vaanbhatt   April 7, 2014 at 6:32 am

    ताऊ बेचारी सुकन्या की नौकरी ले डालेंगे…सुन्दर परिदृश्य…

    Reply
  8. Vinay Prajapati   April 7, 2014 at 7:51 am

    ताऊ जागरुकता की मशाल है 😛

    Reply
  9. GIRIVAR   April 8, 2014 at 6:50 am

    बहुत सुन्दर प्रस्तुति…सार्थक पोस्ट है !!

    Reply
  10. Ramkesh Patel   April 9, 2014 at 3:37 pm

    इसलिए तो ताऊ, ताऊ है ।

    Reply
  11. Govind Badgujar   October 27, 2017 at 9:48 pm

    Superb

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.