सेराजेम थैरेपी अपनाएं स्वस्थ रहे

सेराजेम थैरेपी अपनाएं स्वस्थ रहे

कई वर्षों से शरीर रक्तवात (Rheumatoid Arthritisरुमाटेड ऑर्थराइटिस) से पीड़ित है| हालाँकि आयुर्वेदिक व तिब्बती दवाओं से इस रक्तवात पर काबू भी है पर फिर भी इसके कई साइड इफेक्ट शरीर में हो गए उनमें से एक है कमर की जकड़न| कई दिनों से सोच रहा था कि इसका प्राकृतिक ईलाज करवा लिया जाय, पर इसके लिए एक ही समस्या कि कब बाहर जाना पड़ जाय और ईलाज अधुरा रह जाये| सो इसी उधेड़बुन में कई माह गुजर गए|

इस बीच मित्रों के साथ यह समस्या साझा करने पर सुझाव आया कि आप सेराजेम थैरेपी Ceragem Therapy करवाएं| इस थैरेपी से रक्तवात के साथ शरीर के अन्य दोष भी ठीक हो जायेंगे| मित्रों की सलाह और उनके बताये पते पर जाकर Ceragem Therapy शुरू की| आज इस Therapy का चौथा दिन था, हालाँकि इन चार दिनों में मुझे ज्यादा कुछ महसूस नहीं हुआ, क्योंकि मेरे शरीर में कही दर्द आदि नहीं था सो कितना फायदा मिला इसका आंकलन जरा देर से निकलेगा|

इस थैरेपी के लिए सेंटर पर सुबह 6 बजे से लाइन लगना शुरू हो जाती है, थैरेपी लेने वालों की संख्या में ज्यादातर महिलाएं होती है| एक बैच में 16 लोगों को निशुल्क थैरेपी दी जाती है| संख्या ज्यादा होने के चलते इन्तजार भी काफी करना पड़ता है, सो इस बीच थैरेपी लेने आने वालों के बीच चर्चा का भी समय मिल जाता है| इसी चर्चा में पता चला कि इस थैरेपी में कई लोगों को असाध्य रोगों में बहुत फायदा हुआ है| आज ही एक लड़का बता रहा था, उसे लकवा हो गया था जिसकी वजह से वह हाथ तक ऊपर नहीं उठा पाता था, पर सिर्फ सात दिन के थैरेपी के बाद आज उसने हाथ ऊपर कर दिखाया, वह बहुत खुश भी था| इसी तरह कई महिलाओं ने घुटनों में दर्द आदि में पूरा फायदा मिलने की बात कही|

जिस तरह पेड़ की मजबूती का आधार उसकी जड़ होती है, भवन की मजबूती का आधार उसकी नींव, गाड़ी का चैसिस ठीक उसी तरह मानव शरीर में रीढ़ की हड्डी आधार होती है| इसी रीढ़ की हड्डी पर हमारा स्नायुतंत्र होता है जिसकी देखभाल से हम शरीर का स्वास्थ्य उत्तम बनाये रख सकते है| Ceragem Therapy में रीढ़ की हड्डी की मशीन द्वारा मसाज की जाती है| यह मशीन स्वचालित होती है जो जहाँ ज्यादा जरुरत है वहां उसी अनुरूप मसाज करती है| मशीन बनाने वाली कम्पनी की रिसर्च टीम का मानना है कि इस मशीन द्वारा रीढ़ की हड्डी की मसाज कर कई रोग ठीक किये जा सकते है| कम्पनी की रिसर्च टीम के दावे निम्न है –


यदि आपको भी इनमें से कोई समस्या है तो अपने पास के Ceragem Therapy Center पर जाकर रोग निदान के लिए निशुल्क Ceragem Therapy लें| Ceragem के 70 देशों में लगभग में 3000 Therapy सेण्टर है| भारत में भी ज्यादातर शहरों में इनके निशुल्क सेंटर उपलब्ध है, जहाँ आप इस थैरेपी का फायदा उठाते हुए अपने शरीर को निरोग बना सकते है|

कैसे काम करती है यह मशीन, देखें वीडियो में

फरीदाबाद में यह सेंटर ओल्ड फरीदाबाद बाजार में पथवारी मंदिर के सामने है|

10 Responses to "सेराजेम थैरेपी अपनाएं स्वस्थ रहे"

  1. MANOJ GUPTA   February 20, 2017 at 3:08 am

    maine ceragem machine ko apnaya hai, balki iske daily use kar raha hu, ab mai pahle se kafi fit hu. iska koi side effect nahi hai, iske use karne se mera back pain gas problem, survical overweight problem 80 se 90% cum hua hai

    Reply
  2. MANOJ GUPTA   February 20, 2017 at 3:10 am

    maine ceragem ka use 2 saal se kar raha hu, mujhe kafi problem thi jaise back pain, survical, gas problem and over weight, ab iske use karne se hum 80% tak thik ho chuka hai, mere maa ko bhi kafi problem thi, woh bhi kafi thik hai. maine ise 1 saal pahle kharida hai

    Reply
  3. Neha bodele   February 8, 2018 at 10:31 pm

    Cerajem therepi sickle cell me Kam karti he

    Reply
  4. Tauqeer   April 25, 2018 at 10:16 am

    CeraGem ki machine bahut achha work karti hai
    Mai mere papa ko lekar aata hu iska koi bhiaside effect nahi

    Reply
  5. Garima mourya   April 25, 2018 at 2:11 pm

    Mai ya jana chati hu ke kuch log bolta hai ke Cerajem therapi se body ka blood jalta hai…Kya asia hota hai..??

    Reply
    • Ratan Singh Shekhawat   April 25, 2018 at 7:49 pm

      ऐसा कुछ नहीं है

      Reply
  6. राजेंद्र कुमार   April 29, 2018 at 9:20 am

    क्या इस पद्धति को अपनाकर डिस्क प्रॉब्लम से छुटकारा मिल सकता हैं

    Reply
    • Ratan Singh Shekhawat   April 29, 2018 at 3:38 pm

      ये आप किसी सेरेजम सेंटर जाकर ही पता करें !

      Reply
  7. shubham dwivedi   April 29, 2018 at 6:10 pm

    Phrojen solder he

    Reply
  8. ravi   May 20, 2018 at 12:10 pm

    kya is mashin s hip joint pen me bhi kam karte h

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.