कमाल कर दिया था शेखावाटी के इस मीणा क्रांतिवीर ने

कमाल कर दिया था शेखावाटी के इस मीणा क्रांतिवीर ने

शेखावाटी ब्रिगेड के झुंझुनू स्थित मुख्यालय पर क्रांतिवीर दुल्हेसिंह शेखावत का कटा शीश लटका रहा था, तो दूसरी और क्रांतिकारी दुल्हेसिंह शेखावत के गांव गुडा में क्रांतिवीर का सिर लाने और मेजर फोरेस्टर का घमण्ड चूर करने के लिए कई क्रांतिवीर बड़े से बड़े बलिदान देने की तैयारी कर रहे थे| आपको बता दें राजस्थान […]

इन तत्वों ने खोदी जाट राजपूत जातियों के मध्य खाई

इन तत्वों ने खोदी जाट राजपूत जातियों के मध्य खाई

इन तत्वों ने खोदी जाट राजपूत जातियों के मध्य खाई : राजस्थान के इतिहास में जाट राजपूत एक दूसरे के पूरक रहे हैं| राजपूत जहाँ शासन व सुरक्षा व्यवस्था सँभालते थे, वहीं जाट कृषि कार्य करते थे| चूँकि हमारा देश कृषि प्रधान देश है अंत: राजस्थान की भी अर्थव्यवस्था कृषि पर ही निर्भर थी और […]

जब सवाई जयसिंहजी ने खाया सीकर का खीचड़ा

जब सवाई जयसिंहजी ने खाया सीकर का खीचड़ा

जब सवाई जयसिंहजी ने खाया सीकर का खीचड़ा : किसी भी युद्ध में हथियारों की आपूर्ति के साथ सैनिकों के भोजन की आपूर्ति सबसे महत्वपूर्ण होती है | एक स्थानीय कहावत है कि “भूखे भजन नहीं होत गोपाला” | यह कहावत युद्धरत सैनिकों पर भी लागू होती है, भूखे रहकर सैनिक कितने दिन युद्धरत रह […]

दुश्मनी मिटाने के बदले मिला था सीकर और बना रियासत की राजधानी

दुश्मनी मिटाने के बदले मिला था सीकर और बना रियासत की राजधानी

खंडेला के राजा के राजा रायसल दरबारी के पुत्र तिरमलजी को सम्राट अकबर ने उनकी वीरता से प्रभावित होकर राव की पदवी और कासली व नागौर का पट्टा दिया था| पर शहजादा सलीम व अमीर खुसरो के मध्य दिल्ली की गद्दी को लेकर हुए विवाद में नागौर तिरमलजी के हाथ से निकल गई| कुछ समय […]

इस योद्धा को घोड़ी का नाम शेखावती रखना पड़ गया था भारी

इस योद्धा को घोड़ी का नाम शेखावती रखना पड़ गया था भारी

राजस्थान के एक योद्धा को एक घोड़ी का नाम शेखावती रखना भारी पड़ गया था | इतिहासकारों के अनुसार खाटू के इंद्रभाण जोधा बादशाही सेवा में थे| माधोदास व उनके पुत्र सूरसिंह बादशाही इलाकों में लूटपाट करते थे| इंद्रभाण जोधा बादशाह की ओर से सूरसिंह को पकड़ने आया| आपसी मुठभेड़ में इंद्रभाण जोधा के हाथों […]

तोप के गोले भी नहीं तोड़ पाए थे लकड़ी के इन किंवाड़ों को

किसी भी घर, दफ्तर या ईमारत की सुरक्षा के लिए दरवाजों का सबसे बड़ा महत्त्व है | प्राचीन काल से ही आम व्यक्ति से लेकर राजा-महाराजा तक सुरक्षा के लिए अपने मकानों, महलों, किलों के दरवाजों की मजबूती का विशेष ध्यान रखते थे | आप किसी भी किले के दरवाजों की मजबूती देखकर उनकी महत्ता […]

तो क्या शेरसिंह राणा का कन्धा ही इस्तेमाल कर रहे थे सामाजिक संगठन

तो क्या शेरसिंह राणा का कन्धा ही इस्तेमाल कर रहे थे सामाजिक संगठन

शेरसिंह राणा फूलनदेवी की हत्या के आरोप से वर्षों बाद जेल से छुटे तो क्षत्रिय समाज के सामाजिक संगठनों में शेरसिंह राणा का अभिनंदन करने की होड़ सी लग गई थी| ज्यादातर सामाजिक संगठन अपने आपको शेरसिंह राणा को अपना नजदीकी प्रचारित करना चाहते थे, यही कारण था बहुत से सामाजिक संगठनों ने शेरसिंह राणा […]

इसलिए है सीकर शिक्षा नगरी Prince Eduhub

हाल ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपनी एक चुनावी सभा में सीकर को शिक्षा नगरी कह कर संबोधित किया | उनके संबोधन के बाद कईयों को जिज्ञासा हुई कि राजस्थान में अजमेर, पिलानी, कोटा आदि शिक्षा क्षेत्र में बड़ा नाम होने के बावजूद प्रधानमंत्री मोदी ने सीकर को शिक्षा नगरी क्यों कहाँ ? यह जिज्ञासा […]

डोटासरा जो ये रहा महाराणा प्रताप के महान होने का सर्टिफिकेट

डोटासरा जो ये रहा महाराणा प्रताप के महान होने का सर्टिफिकेट

कुछ समय पूर्व राजस्थान के शिक्षा मंत्री गोविन्दसिंह डोटासरा ने पत्रकारों द्वारा महाराणा प्रताप को महान मानने के एक सवाल के जबाब में कहा कि वे रिपोर्ट बनवायेंगे कि महाराणा प्रताप महान थे या नहीं | मतलब राजस्थान के शिक्षा मंत्री राष्ट्र गौरव महाराणा प्रताप की महानता के बारे में अनभिज्ञ हैं या उनके मन […]

History of Danta Fort दांता किले का इतिहास

History of Danta Fort : ऊँची पहाड़ी पर अपना गर्वीला मस्तक उठाकर खड़े इस किले का अपना ही स्वर्णिम इतिहास है | इसी किले की कहानी और इसके शासकों के संक्षिप्त इतिहास आज हम बताएँगे इस लेख में |  इस छोटे से किले व छोटी सी रियासत के स्वाभिमानी शासकों ने लड़े थे कई बड़े […]

1 2 3 17