इस राजपूत रियासत के राजा का राजतिलक होता है जाट के हाथों

इस राजपूत रियासत के राजा का राजतिलक होता है जाट के हाथों

सोशियल मीडिया में कुछ जाट-राजपूत युवा आपस में एक दूसरे को नीचा दिखाने के लिए एक दूसरी जाति के राजाओं के प्रतिकूल टिप्पणियाँ करते अक्सर पढ़े जा सकते है| पर उन्हें मालूम ही नहीं कि कथित आजादी यानी सत्ता हस्तांतरण के बाद ही वोट बैंक की राजनीति ने दोनों जातियों के मध्य कटुता बढ़ाई है| […]

अमीर खुसरो ने दिए थे गोरा बादल द्वारा की गई कमाण्डो कार्यवाही के ये संकेत

पद्मावती फिल्म विवाद में भंसाली के पक्ष में उतरे कथित सेकुलर इतिहासकार दावा करते है कि 1540 ई. से पहले इस कहानी के कोई ऐतिहासिक तथ्य नहीं मिलते| लेकिन जो तथ्य है, उन पर ये कथित इतिहासकार आँखे मूंदे है, क्योंकि ये तथ्य मानते ही उनका भारतीय संस्कृति व स्वाभिमान पर चोट करने का वामपंथी […]

ये व्यक्ति था रानी पद्मिनी के जौहर का प्रत्यक्षदर्शी

ये व्यक्ति था रानी पद्मिनी के जौहर का प्रत्यक्षदर्शी

कथित सेकुलर इतिहासकार, पत्रकार भंसाली के पक्ष में रानी पद्मिनी के इतिहास को काल्पनिक बताने के लिए भले कितनेही चिल्लाये पर पर यह नग्न सत्य है कि अलाउद्दीन खिलजी ने चित्तौड़ कर आक्रमण किया था| चित्तौड़ लेने की उसकी मंशा बेशक आर्थिक, राजनैतिक, कुटनीतिक थी| पर राघव चेतन द्वारा भड़काये जाने पर खिलजी की राजनैतिक […]

रानी पद्मावती की कहानी के पात्रों का सच इतिहास की नजर में

रानी पद्मावती की कहानी के पात्रों का सच इतिहास की नजर में

रानी पद्मावती फिल्म पर विवाद के बाद वामपंथी इतिहासकार व इसी सोच वाली पत्रकार टीवी चैनलों पर बहस छेड़े है कि रानी पद्मावती, रावत रत्नसिंह, गोरा बादल, राघव चेतन काल्पनिक किरदार है, जायसी के दिमाग की उपज है| इसमें इन तत्वों को दो फायदे है, एक भंसाली से मोटा पैसा मिल जायेगा, दूसरा भारतीय संस्कृति […]

इस गद्दार की वजह से करना पड़ा था रानी पद्मावती को जौहर

इस गद्दार की वजह से करना पड़ा था रानी पद्मावती को जौहर

अलाउद्दीन खिलजी के चितौड़ पर आक्रमण के बाद चितौड़ दुर्ग में रानी पद्मिनी के नेतृत्व में हजारों की संख्या में महिलाओं को जौहर की धधकती अग्नि में अग्नि स्नान करना पड़ा था| इतिहासकार यह संख्या 13 हजार बतातें है| एक तरफ महिलाओं को अपनी पवित्रता बचाने के लिए जौहर में अग्नि स्नान करना पड़ा, वहीं […]

इन वीरों ने तोड़ा था आगरा किले का सुरक्षा घेरा

इन वीरों ने तोड़ा था आगरा किले का सुरक्षा घेरा

आगरा का किला भारत का सबसे महत्वपूर्ण किला है। इस किले को सबसे ज्यादा सुरक्षित, सुविधाजनक व महफूज मानते हुए भारत के मुगल सम्राट बाबर, हुमायुं, अकबर, जहांगीर, शाहजहां व औरंगजेब यहां रहा करते थे, व यहीं से पूरे भारत पर शासन किया करते थे। यहां राज्य का सर्वाधिक खजाना, सम्पत्ति व टकसाल थी। यहाँ […]

इस वीर ने यूँ मारा था अलाउद्दीन खिलजी के नहले पर दहला

इस वीर ने यूँ मारा था अलाउद्दीन खिलजी के नहले पर दहला

सोमनाथ महादेव मंदिर को लूटकर अल्लाउद्दीन खिलजी ने महादेव के ज्योतिर्लिंग को गिले चमड़े बाँधा और बैल गाड़ी में डालकर दिल्ली की ओर चला। रास्ते में जालोर के निकट सराणा या सकराणा गांव में डेरा डाला। उस वक्त जालोर पर सोनगरा चौहान वीरवर कान्हड़देव का शासन था। कान्हड़देव वीर व धर्मपरायण राजा था। उसे जब […]

इस वीर ने खिलजी से छीन लिया था सोमनाथ महादेव का ज्योतिर्लिंग

इस वीर ने खिलजी से छीन लिया था सोमनाथ महादेव का ज्योतिर्लिंग

अल्लाउद्दीन खिलजी ने गुजरात पर चढ़ाई की। वहां की बहुत सी जनता को मारा और सोरठ में देव पट्टन में सोमइया (सोमनाथ) महादेव को लूटकर ज्योतिर्लिंग को गीले चमड़े में बाँधा और गाड़ी में डालकर चल पड़ा। गुजरात से वापस लौटते समय खिलजी ने जालोर के गांव सकराणे में डेरा डाला। सकराणा गांव जालोर से […]

इस गौरक्षक वीर के शव के साथ उसकी मंगेतर कुंवारी ही हो गई थी सती

इस गौरक्षक वीर के शव के साथ उसकी मंगेतर कुंवारी ही हो गई थी सती

गौरक्षा के लिए रतनसिंह बालापोता  द्वारा प्राणों के उत्सर्ग का समाचार रायांगणां के मांगलिया क्षत्रिय परिवार, जहाँ उसकी सगाई हुई थी, पहुंचा। तब उसकी मंगेतर मांगलियाणी कन्या रथ जुतवा कर मोरडूंगा गांव पहुंची और अपने मृत मंगेतर के शव के साथ चिता का आरोहण कर सती हो गई।  सरवड़ी व पूरणपुरा गांव के कांकड़ पर उस सती […]

हिन्दुत्त्व के रक्षक महाराजा कर्णसिंह जी बीकानेर

हिन्दुत्त्व के रक्षक महाराजा कर्णसिंह जी बीकानेर

हिन्दुत्त्व के रक्षकों का इतिहास खंगाला जाय तो राजस्थान के इतिहास में कई राजाओं के नाम स्वर्ण अक्षरों में लिखे पाये जायेंगे। हिन्दुत्त्व की रक्षा के लिए अपने प्राणों व बड़े से बड़ा त्याग करने वाले वीरों की राजस्थान में लम्बी श्रंखला रही है। इसी श्रंखला में बीकानेर के महाराजा कर्णसिंह जी का नाम इतिहास […]

1 2 3 6