इतिहास का ऐसा विश्लेषण करने वालो पहले अपने अन्दर झांको

इतिहास का ऐसा विश्लेषण करने वालो पहले अपने अन्दर झांको

इतिहास का विश्लेषण वर्तमान युवा पीढ़ी का पसंदीदा विषय है| जब से हिन्दुत्त्व व राष्ट्रवाद का उन्माद बढ़ा है तब से इतिहास विश्लेषण का कार्य इसी विचारधारा के अनुरूप त्वरित गति से बढ़ा है| इतिहास में जिन शासकों ने तत्कालीन परिस्थितियों के मध्यनजर अपने पड़ौसियों या फिर अपने से बड़े शासकों से संधियाँ कर अपने […]

जयचंद व मानसिंह नहीं इतिहास में तुम्हें कौम का गद्दार लिखा जायेगा

जयचंद व मानसिंह नहीं इतिहास में तुम्हें कौम का गद्दार लिखा जायेगा

सोसियल मीडिया में आजकल क्षत्रिय बंधुओं में अजीब जंग छिड़ी हुई है| दरअसल क्षत्रिय समाज यानी राजपूत शुरू से ही भाजपा का परम्परागत वोट बैंक रहा है और राजपूतों ने भाजपा को सत्ता के शिखर तक पहुँचाने में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाई है| पर जब से केंद्र में भाजपा की सरकार बनी है तब से राजपूत […]

कार्ल मार्क्स की ये बात राजपूतों पर सटीक बैठती है

कार्ल मार्क्स की ये बात राजपूतों पर सटीक बैठती है

कार्ल मार्क्स ! जी हाँ वही कार्ल मार्क्स, जिसने वामपंथी विचारधारा प्रतिपादित की| मार्क्स का धर्म को लेकर एक डायलोग दुनिया भर में प्रचलित है कि धर्म अफीम के नशे के समान है| धार्मिक लोग मार्क्स के इस डायलोग की कड़ी निंदा करते हैं, पर आजकल देश में राजनैतिक दलों द्वारा जिस तरह धार्मिक उन्माद […]

देश में बढ़ी राजनैतिक चेतना, आने वाले दिनों में होगा ये

देश में बढ़ी राजनैतिक चेतना, आने वाले दिनों में होगा ये

देश में राजनैतिक चेतना का बढ़ना अपने उच्चतम स्तर पर है| आज हर व्यक्ति हर बात व काम में राजनीति देखता है| देश की कोई भी कितनी ही गंभीर समस्या हो, उसे देखने का हर नागरिक का नजरिया राजनैतिक बन चुका है| अब इस देश में उन्हीं नागरिकों को समस्या नजर आती है जिनकी समर्थित […]

मोदी जी के SC/ST एक्ट ने ये इतने सारे सवाल खड़े कर दिये !

मोदी जी के SC/ST एक्ट ने ये इतने सारे सवाल खड़े कर दिये !

SC/ST एक्ट संविधान की मूल अवधारणा के विरुद्ध है। जो संविधान के अस्तित्व पर ही प्रश्न खड़े करता है इसलिए इसे असंवैधानिक ठहराने और निरस्त करने के निम्न विवेक संगत आधार हैं- (१) जाति के आधार पर आपराधिक विधि बनाकर दण्ड का निर्धारण करना। अनुच्छेद 14 का अतिक्रमण है। अनुच्छेद 14 की आरक्षण पहले ही […]

वीर दुर्गादास राठौड़ के व्यक्तित्व से इसलिए सबसे ज्यादा प्रभावित हूँ मैं

वीर दुर्गादास राठौड़ के व्यक्तित्व से इसलिए सबसे ज्यादा प्रभावित हूँ मैं

वीर दुर्गादास राठौड़ : भारत के इतिहास से एक से बढ़कर एक योद्धा हुए है, जिनके नामों की लम्बी श्रंखला है| यदि मैं सबका नाम यहाँ लिखना शुरू करूँ तो यह लेख उन्हीं के नामों से भर जायेगा| पर हम भारत के मध्यकाल के योद्धाओं की बात करें तो पृथ्वीराज, आल्हा-उदल, महाराणा कुम्भा, महाराणा सांगा, […]

 ऐसा था खूड़ ठिकाने का राज बलाई कज्जूराम

 ऐसा था खूड़ ठिकाने का राज बलाई कज्जूराम

आजादी से पूर्व रियासती काल में दलित, पिछड़ी व श्रमजीवी जातियां राजपूतों के लिए मरने मारने को तैयार रहती थी, वहीं राजस्थान का आम राजपूत इन जातियों को अपना समझता था और उनके लिए किसी से भी लड़ने-भिड़ने, सिर कटवाने के लिए तैयार रहता था| इन जातियों के अपने से बड़ी उम्र के लोगों को […]

कट्टर भाजपाई क्यों बन रहे है भाजपा विरोधी ?

कट्टर भाजपाई क्यों बन रहे है भाजपा विरोधी ?

वर्षों से कट्टर भाजपाई कार्यकर्त्ता रहे आज भाजपा के विरोध में है ऐसा क्यों ? वे क्या कारण है कि जन्मजात भाजपा से जुड़ा एक बहुत बड़ा वर्ग आज भाजपा के खिलाफ खड़ा है| मैं खुद बचपन से संघ-भाजपा का कार्यकर्त्ता रहा हूँ, पर आज भाजपा की कार्यप्रणाली से नाराज हूँ और उसे अभिव्यक्त करते […]

राजपूतों की वीरता, शौर्य और इतिहास पर प्रश्न करने वालों को उत्तर

राजपूतों की वीरता, शौर्य और इतिहास पर प्रश्न करने वालों को उत्तर

राजपूतों की वीरता, शौर्य और इतिहास को लेकर आजादी के बाद सरकारी नीतियों की बैसाखी के दम पर आगे बढ़ी जातियों के कुछ युवा आजकल सोशियल मीडिया में प्रश्न उठाते है कि राजपूत इतने वीर थे तो हारे क्यों ? राजपूतों के प्रति पूर्वाग्रह से ग्रसित, कुंठित इन तत्वों को यह पता नहीं कि राजपूतों […]

ऐसा करके ही राजपूत राजनैतिक वर्चस्व कायम कर सकते हैं

ऐसा करके ही राजपूत राजनैतिक वर्चस्व कायम कर सकते हैं

इसे विडम्बना ही कहेंगे कि सदियों तक शासन कर  देश का नेतृत्व करने वाला क्षत्रिय समाज आज हर राजनैतिक दल में दोयम दर्जे पर है| आप किसी भी राजनैतिक दल के दूसरे महत्त्वपूर्ण बड़े पद पर राजपूत नेता के होने, कई प्रदेशों के मुख्यमंत्री, मंत्री होने की संख्या को लेकर इतरा सकते हैं, लेकिन इन […]