इसलिए है गोगामेड़ी सो कॉल्ड बुद्धिजीवियों के निशाने पर

इसलिए है गोगामेड़ी सो कॉल्ड बुद्धिजीवियों के निशाने पर

गोगामेड़ी सो कॉल्ड बुद्धिजीवियों के निशाने पर : आजकल समाज का बुद्धिजीवी वर्ग आपराधिक छवि वाले लोगों द्वारा सामाजिक नेतृत्व हथिया लिए जाने काफी दुखी है| इन कथित बुद्धिजीवियों का कहना है कि आपराधिक छवि के लोगों का नेतृत्व चाहे किसी भी जाति वर्ग का हो वह खतरनाक है | एक बुद्धिजीवी ने फेसबुक पर […]

अब गांव गांव नहीं रहे, देखो परिवर्तन

गांव अब गांव नहीं रहे, आजकल गांव भी हाईटेक हो गए, जो सुविधाएँ शहरों में है वे गांवों में भी है बल्कि ये कहें कि सड़क, नालियां, नए नए धंधों यानी स्टार्टअप की शुरुआत जैसे विकास के मामले में गांव शहरों से आगे है तो कोई अतिशयोक्ति नहीं होगी| सीकर जिले के भगतपुरा ग्राम के […]

मंदिरों में दलित प्रवेश रोकने का आरोप लगाने वालों के मुंह पर तमाचा

मंदिरों में दलित प्रवेश की ख़बरें अक्सर अख़बारों व टीवी मीडिया में सुर्खियाँ बनती है| पर वर्तमान में हकीकत कुछ और ही है| यदि हम मंदिरों में दलित प्रवेश का जायजा लें तो लगता है कि ये ख़बरें किसी ख़ास उद्देश्य के लिए जानबूझकर बनाई जाती है और प्रचारित की जाती है| इसी तरह की […]

सदियों से आरक्षण की बात करने वाले उदितराज को जबाब

सदियों से आरक्षण की बात करने वाले उदितराज को जबाब

आरक्षण पर जब भी टीवी पर बहस होती है, बहस में हिस्सा लेने वाले धनाढ्य व ऊँचे पद पर पहुँच चुके दलित चिन्तक से सामने वाला पक्ष आरक्षण छोड़ने की बात करता है तो वह सदियों से आरक्षण व्यवस्था पर ज्ञान झाड़ने लगता है| हाल ही एक टीवी बहस में भाजपा सांसद उदितराज से कहा […]

इतिहास का ऐसा विश्लेषण करने वालो पहले अपने अन्दर झांको

इतिहास का ऐसा विश्लेषण करने वालो पहले अपने अन्दर झांको

इतिहास का विश्लेषण वर्तमान युवा पीढ़ी का पसंदीदा विषय है| जब से हिन्दुत्त्व व राष्ट्रवाद का उन्माद बढ़ा है तब से इतिहास विश्लेषण का कार्य इसी विचारधारा के अनुरूप त्वरित गति से बढ़ा है| इतिहास में जिन शासकों ने तत्कालीन परिस्थितियों के मध्यनजर अपने पड़ौसियों या फिर अपने से बड़े शासकों से संधियाँ कर अपने […]

जयचंद व मानसिंह नहीं इतिहास में तुम्हें कौम का गद्दार लिखा जायेगा

जयचंद व मानसिंह नहीं इतिहास में तुम्हें कौम का गद्दार लिखा जायेगा

सोसियल मीडिया में आजकल क्षत्रिय बंधुओं में अजीब जंग छिड़ी हुई है| दरअसल क्षत्रिय समाज यानी राजपूत शुरू से ही भाजपा का परम्परागत वोट बैंक रहा है और राजपूतों ने भाजपा को सत्ता के शिखर तक पहुँचाने में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाई है| पर जब से केंद्र में भाजपा की सरकार बनी है तब से राजपूत […]

कार्ल मार्क्स की ये बात राजपूतों पर सटीक बैठती है

कार्ल मार्क्स की ये बात राजपूतों पर सटीक बैठती है

कार्ल मार्क्स ! जी हाँ वही कार्ल मार्क्स, जिसने वामपंथी विचारधारा प्रतिपादित की| मार्क्स का धर्म को लेकर एक डायलोग दुनिया भर में प्रचलित है कि धर्म अफीम के नशे के समान है| धार्मिक लोग मार्क्स के इस डायलोग की कड़ी निंदा करते हैं, पर आजकल देश में राजनैतिक दलों द्वारा जिस तरह धार्मिक उन्माद […]

देश में बढ़ी राजनैतिक चेतना, आने वाले दिनों में होगा ये

देश में बढ़ी राजनैतिक चेतना, आने वाले दिनों में होगा ये

देश में राजनैतिक चेतना का बढ़ना अपने उच्चतम स्तर पर है| आज हर व्यक्ति हर बात व काम में राजनीति देखता है| देश की कोई भी कितनी ही गंभीर समस्या हो, उसे देखने का हर नागरिक का नजरिया राजनैतिक बन चुका है| अब इस देश में उन्हीं नागरिकों को समस्या नजर आती है जिनकी समर्थित […]

मोदी जी के SC/ST एक्ट ने ये इतने सारे सवाल खड़े कर दिये !

मोदी जी के SC/ST एक्ट ने ये इतने सारे सवाल खड़े कर दिये !

SC/ST एक्ट संविधान की मूल अवधारणा के विरुद्ध है। जो संविधान के अस्तित्व पर ही प्रश्न खड़े करता है इसलिए इसे असंवैधानिक ठहराने और निरस्त करने के निम्न विवेक संगत आधार हैं- (१) जाति के आधार पर आपराधिक विधि बनाकर दण्ड का निर्धारण करना। अनुच्छेद 14 का अतिक्रमण है। अनुच्छेद 14 की आरक्षण पहले ही […]

वीर दुर्गादास राठौड़ के व्यक्तित्व से इसलिए सबसे ज्यादा प्रभावित हूँ मैं

वीर दुर्गादास राठौड़ के व्यक्तित्व से इसलिए सबसे ज्यादा प्रभावित हूँ मैं

वीर दुर्गादास राठौड़ : भारत के इतिहास से एक से बढ़कर एक योद्धा हुए है, जिनके नामों की लम्बी श्रंखला है| यदि मैं सबका नाम यहाँ लिखना शुरू करूँ तो यह लेख उन्हीं के नामों से भर जायेगा| पर हम भारत के मध्यकाल के योद्धाओं की बात करें तो पृथ्वीराज, आल्हा-उदल, महाराणा कुम्भा, महाराणा सांगा, […]

1 2 3 18