राजपूतों की वीरता, शौर्य और इतिहास पर प्रश्न करने वालों को उत्तर

राजपूतों की वीरता, शौर्य और इतिहास पर प्रश्न करने वालों को उत्तर

राजपूतों की वीरता, शौर्य और इतिहास को लेकर आजादी के बाद सरकारी नीतियों की बैसाखी के दम पर आगे बढ़ी जातियों के कुछ युवा आजकल सोशियल मीडिया में प्रश्न उठाते है कि राजपूत इतने वीर थे तो हारे क्यों ? राजपूतों के प्रति पूर्वाग्रह से ग्रसित, कुंठित इन तत्वों को यह पता नहीं कि राजपूतों […]

ऐसा करके ही राजपूत राजनैतिक वर्चस्व कायम कर सकते हैं

ऐसा करके ही राजपूत राजनैतिक वर्चस्व कायम कर सकते हैं

इसे विडम्बना ही कहेंगे कि सदियों तक शासन कर  देश का नेतृत्व करने वाला क्षत्रिय समाज आज हर राजनैतिक दल में दोयम दर्जे पर है| आप किसी भी राजनैतिक दल के दूसरे महत्त्वपूर्ण बड़े पद पर राजपूत नेता के होने, कई प्रदेशों के मुख्यमंत्री, मंत्री होने की संख्या को लेकर इतरा सकते हैं, लेकिन इन […]

क्या अब समझने लगा है राजपूत समाज वोट की राजनीति ?

क्या अब समझने लगा है राजपूत समाज वोट की राजनीति ?

हजारों साल देश की राजनीति में दखल रखकर राज करने वाली क्षत्रिय जाति, जिसका सदियों राज करने के कारण नाम भी राजपूत पड़ा, 1947 में सत्ता हस्तांतरण के बाद 71 वर्ष बाद भी राजनैतिक रूप से दोराहे पर खड़ी है। अब प्रश्न उठता है कि इतने वर्षों बाद भी राजपूत जाति वोट तंत्र का महत्त्व […]

यदि राजपूत मुस्लिम युद्ध साम्प्रदायिक होते तो क्या ये संभव था ?

यदि राजपूत मुस्लिम युद्ध साम्प्रदायिक होते तो क्या ये संभव था ?

इस देश में मुस्लिम आक्रान्ताओं के साथ जितने युद्ध राजपूतों ने लड़े उतने शायद दुनिया की किसी जाति ने नहीं लड़े| मुस्लिम बादशाहों के आक्रमणों का सबसे ज्यादा सामना लम्बे समय तक राजपूतों को करना पड़ा| इन युद्धों में राजपूतों ने एक से बढ़कर एक बलिदान दिए| जौहर और साकों के बाद कई राजपरिवारों के […]

ऐसे हो रहा है सोशियल मीडिया का दुरूपयोग

ऐसे हो रहा है सोशियल मीडिया का दुरूपयोग

सोशियल मीडिया का दुरूपयोग  : इन्टरनेट सेवा के प्रसार के बाद आपसी मेल-जोल बढाने के लिए ऑरकुट व फेसबुक जैसे वेब साइट्स बनी, जिनका मुख्य उद्देश्य लोगों को आपसी मित्रता बढाकर लोगों में दूरियां कम करने के लिए एक प्लेटफ़ॉर्म उपलब्ध कराना था| शुरू में लोग इन वेब साइट्स पर अनजान व दूर चले गए […]

दलित उत्थान को सही दिशा दें क्षत्रिय

दलित उत्थान को सही दिशा दें क्षत्रिय

स्व.आयुवानसिंह जी ने अपनी पुस्तक राजपूत और भविष्य में भविष्यवाणी की थी कि – “भावी युग श्रमजीवी ( दलित ) जातियों के अभ्युत्थान का युग होगा। भारत में अब तक श्रमजीवियों की उन्नति का रूप सामूहिक न होकर व्यक्तिक ही हुआ है। शूद्रों में जो व्यक्ति महान और उच्च होते थे उन्हें उपाधियों आदि से […]

सेकुलर व वामपंथी गैंग लेखकों के मुंह पर तमाचा है इन दो जगहों उमड़ी भीड़

आप सब जानते है कि आजादी के बाद सेकुलर व वामपंथी गैंग के लेखकों ने सबसे ज्यादा पूर्व राजाओं के खिलाफ दुष्प्रचार किया| अपनी लेखनी में उन्हें अत्याचारी, क्रूर लिखा, लेकिन हाल ही घटी घटनाओं में राजाओं व राजपरिवारों के प्रति जनता ने जो श्रद्धा प्रदर्शित की वह सेकुलर गैंग के लेखकों के मुंह पर […]

राजस्थान भाजपा को मिलने वाले जाट वोटों का सच

राजस्थान भाजपा को मिलने वाले जाट वोटों का सच

Reality of Jat Vots for BJP : हाल ही में राजस्थान भाजपा प्रदेशाध्यक्ष प्रकरण के मामले में एक गुट ने दूसरे गुट की बात ना मानने के लिए राजपूत-जाट मुद्दा उछाला|  आपको बता दें केन्द्रीय मंत्री गजेन्द्रसिंह शेखावत प्रदेशाध्यक्ष पद पर मोदी अमितशाह की पहली पसंद थे| लेकिन मुख्यमंत्री वसुंधराराजे अपनी पसंद का या फिर […]

कर्नाटक प्रकरण, कांग्रेस ने जो बोया उसी की फसल काट रही है

कर्नाटक प्रकरण, कांग्रेस ने जो बोया उसी की फसल काट रही है

1947 में सत्ता हस्तांतरण के बाद सत्ता में आई कांग्रेस ने लोकतंत्र की शुरुआत ही उसका गला घोंटने के साथ की थी| देश में जब आम चुनाव हुए और देशी रियासतों के राजा-महाराजा चुनावों में खड़े हुए, तो उन्हें जनता का खूब समर्थन मिला| इससे नेहरु को भविष्य में कांग्रेस के हाथों सत्ता खिसकती नजर […]

बिना जनाधार सत्ता भोगने के लालची तत्वों ने भैरोसिंहजी के साथ ये किया था

बिना जनाधार सत्ता भोगने के लालची तत्वों ने भैरोसिंहजी के साथ ये किया था

जिस तरह आज उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ भाजपा के एक खास गुट को पसंद नहीं, ठीक वैसे ही राजस्थान में भाजपा की जड़ें जमा कर उसे मजबूत करने वाले भैरोसिंहजी शेखावत भी भाजपा के कुछ रीढ़विहीन नेताओं को बहुत चुभते थे| ये रीढ़विहीन तत्व चाहते थे कि भैरोसिंहजी मेहनत कर पार्टी को सत्ता में लाये […]

1 2 3 17