इस तरह मूर्ख बनाया जा रहा है किसान

इस तरह मूर्ख बनाया जा रहा है किसान

 कभी खेती किसानी के दम पर सोने की चिड़िया रहे भारत के किसान आज सबसे ज्यादा शोषण के शिकार हैं| कहने को कृषि विभाग कृषि विकास के लिए कई योजनाएं चलाता है, खाद, बीज, कृषि यंत्रों पर मोदी सब्सिडी दी जाती है फिर भी किसानों की हालत दयनीय है, कृषि घाटे का व्यवसाय बना हुआ […]

फूट डालो राज करो की नीति के आज भी है आप शिकार

फूट डालो राज करो की नीति के आज भी है आप शिकार

मेवाड़ का इतिहास भले ही रक्तरंजित युद्धों के वर्णनों से भरा हो पर मेवाड़ में सदियों से जातीय व साम्प्रदायिक सौहार्द कायम रहा है और यही कारण है कि अकबर जैसा शक्तिशाली बादशाह महाराणा प्रताप को झुका नहीं सका| यह जातीय व साम्प्रदायिक सौहार्द ही मेवाड़ की शक्ति रही है जिसमें सदियों से फूट डालने […]

राजपूत संगठनों व समाज में फूट डालने का षड्यंत्र तो नहीं ये

राजपूत संगठनों व समाज में फूट डालने का षड्यंत्र तो नहीं ये

भाजपा और कांग्रेस दोनों दल राजस्थान में लोकसभा की सभी 25 सीटें जीतने की रणनीति बना रही है| देखने में दोनों दल जीतने वाले प्रत्याशियों को चुनावी रण में उतारने में लगे हैं, लेकिन जीत की इस रणनीति में कई खेल भी खेले जायेंगे| जिन्हें आम मतदाता तो नहीं समझ पा रहे पर राजनीतिक क्षेत्र […]

क्या सरकार व सुप्रीम कोर्ट इस सवाल का जबाब देंगे ?

क्या सरकार व सुप्रीम कोर्ट इस सवाल का जबाब देंगे ?

आजादी के बाद से ही एक खास विचारधारा व सेकुलर ताकतों द्वारा भारतीय संस्कृति को बिगाड़ने के षड्यंत्र चालु है| समय समय पर इस विचारधारा के विभिन्न संवैधानिक पदों पर बैठे लोग इस तरह के नियम बनाते हैं जो भारतीय संस्कृति के प्रतिकूल होते हैं| महिलाओं की आजादी की आड़ में भी ऐसे कई नियम […]

क्या आप राजपूत सरनेम के आगे जी लगाने का मतलब समझते हैं ?

क्या आप राजपूत सरनेम के आगे जी लगाने का मतलब समझते हैं ?

आजकल ज्यादातर लोग सरनेम से जाने जाते हैं या पुकारे जाते हैं| अब भारतीय संस्कृति के अनुसार के किसी के नाम के आगे “जी” ना लगाया जाए तो उसे असभ्यता भी माना जाता है| अत: लोग अपने सहकर्मियों, मित्रों, रिश्तेदारों के नाम के आगे जी लगाकर संबोधन करते हैं| जैसे राठौड़ को राठौड़ जी, शेखावत […]

आपराधिक छवि का नेतृत्व : पनपने का कारण और निवारण

भारतीय राजनीति में आपराधिक छवि के लोगों के बढ़ते वर्चस्व से देश का हर समझदार नागरिक चिंतित है| बावजूद आपराधिक छवि के लोगों की संसद व विधानसभाओं में संख्या बढती जा रही है| यही नहीं जातीय सामाजिक संगठनों के नेतृत्व पर आपराधिक प्रवृति के लोगों का जमावड़ा बढ़ता जा रहा है| जातीय संगठनों के नेतृत्व […]

भाजपा द्वारा स्व. भैरोसिंह शेखावत को मुख्यमंत्री बनाने का सच

भाजपा द्वारा स्व. भैरोसिंह शेखावत को मुख्यमंत्री बनाने का सच

टेलीविजन पर चुनावी बहसों में भाजपा के नेताओं ने जब भी स्व. भैरोसिंह शेखावत की बात चली, जबाब देते सुना गया कि भाजपा ने भैरोंसिंह जी मुख्यमत्री बनाया| जबकि हकीकत कुछ और है | यदि हम भाजपा जो तत्कालीन समय में जनसंघ के नाम से जानी जाती थी, का राजस्थान में इतिहास खंगाले तो भाजपा […]

क्या राजपूत समाज विद्याधरनगर विधानसभा सीट की दावेदारी बचा पायेगा ?

विद्याधरनगर विधानसभा सीट पर कांग्रेस-भाजपा दोनों राजपूत प्रत्याशी उतारती आई है| पिछले दो चुनावों में भाजपा से नरपतसिंह राजवी व कांग्रेस से विक्रमसिंह शेखावत आमने सामने रहे| चूँकि राजपूत भाजपा समर्थक हैं और जागीरदारी उन्मूलन के नाम पर आम राजपूत की कृषि भूमि छीनकर अपने समर्थकों को देने के कारण कांग्रेस से नफरत करता है| […]

इसलिए नहीं मिलता राजपूतों को योग्य नेता

इसलिए नहीं मिलता राजपूतों को योग्य नेता

यह विडम्बना ही है कि सदियों तक इस देश को नेतृत्व देने वाली क्षत्रिय जाति यानी राजपूतों के पास आज कोई ऐसा नेता नहीं है, जो उन्हें नेतृत्व दे सके और समाज का हर राजपूत उसकी मान सके| यूँ तो राजपूत समाज में बहुत से सामाजिक संगठन है और अपने आपको समाज का अग्रणी संगठन […]

विधायक बाबूसिंह के बयान पर रोष व्यक्त करने वालो ये भी जान लो

विधायक बाबूसिंह के बयान पर रोष व्यक्त करने वालो ये भी जान लो

शेरगढ़ के  विधायक बाबूसिंह राठौड़ के जाट जाति पर एक बयान को लेकर जाट युवाओं में काफी रोष है| विधायक बाबूसिंह राठौड़ का बयान निंदनीय है, उन्हें ऐसा शर्मनाक बयान नहीं देना चाहिए| कथित बयान में विधायक बाबूसिंह राठौड़ ने अपने विरोधी जाटों को पाकिस्तानी बता दिया| राठौड़ के इस तरह के बयान का कोई […]

1 2 3 19