26.6 C
Rajasthan
Tuesday, September 27, 2022

Buy now

spot_img

राजनीति में उभरते युवा नेता अभिमन्यु सिंह राजवी

भारतीय जनता पार्टी के युवा नेता व शेरे राजस्थान पूर्व उपराष्ट्रपति स्व. भैरों सिंह जी शेखावत के दोहिते अभिमन्यु सिंह राजवी का जन्म 24 फरवरी 1991 को जयपुर के सवाई मानसिंह अस्पताल में हुआ| आपकी माता का नाम रतन कँवर है जो पूर्व उपराष्ट्रपति स्व. भैरोंसिंह जी की इकलौती पुत्री है| आपके पिता का नाम श्री नरपत सिंह जी राजवी है जो बीकानेर रियासत के बेणीसर ठिकाने के पूर्व ठिकानेदार व जस्टिस श्री अमर सिंह जी राजवी के पुत्र है,श्री अमर सिंह जी राजस्थान के जाने माने इतिहासकार भी रहे है आपने राजस्थान के सभी राजपूत वंशों का अंग्रेजी में बृहद इतिहास लिखा है, श्री नरपत सिंह जी राजवी राजनीति में आने से पहले राजस्थान की प्रशासनिक सेवा में कार्यरत थे, राजनीति में आने के बाद वे राज्य की भाजपा सरकारों में विभिन्न मंत्रालयों के मंत्री रहे है व वर्तमान में विद्याधरनगर जयपुर से विधायक है|

अभिमन्यु सिंह राजवी का बचपन जहाँ मुख्यमंत्री आवास में बिता वहीँ तरुणावस्था दिल्ली स्थित उपराष्ट्रपति आवास भवन में, आपने दिल्ली की संस्कृति स्कूल से स्कूली शिक्षा व दिल्ली विश्वविद्यालय से कला स्नातक तक शिक्षा ग्रहण की, वैसे तो आपका बचपन, तरुणावस्था अपने नानोसा राजनीति के धुरंधर स्व.भैरों सिंह जी के सानिध्य में राजनीति को नजदीक से देखते हुए ही बीता पर स्कूली शिक्षा के साथ ही अल्प आयु में ही आपको स्व. भैरोंसिंह जी ने राजनीति का पाठ पढ़ाते हुए राजनीति सिखानी शुरू कर दी थी, और बारहवीं कक्षा में पढ़ते हुए ही आपको अपने नानोसा उपराष्ट्रपति स्व.भैरों सिंह जी के सभी कार्यक्रमों की रूपरेखा बनाने का दायित्व सौंप दिया गया, आप उनके सहायक के तौर पर कार्य देखने लगे|

राजनैतिक पृष्ठ भूमि होने व बचपन से ही राजनीति देखते रहने के चलते आप राजनीति से दूर व अछूते कैसे रह सकते थे ?, सो बचपन में ही अपनी राजनैतिक चेतना का प्रदर्शन करते हुए आपने महज दस वर्ष की अल्पायु में सन 2001 में महंगाई के खिलाफ जयपुर जिला कलेक्टर कार्यालय पर प्रदर्शन में भाग लिया और गिरफ्तारी देकर जेल गये| बचपन से आजतक आप 45 देशों की यात्रा कर चुके है| इन यात्राओं में आपको कई देशों के राष्ट्र प्रमुखों व राजनीतिज्ञों से मिलने, बातचीत कर उन्हें समझने का सौभाग्य प्राप्त हुआ है|

स्व.भैरों सिंह जी के निधन के बाद राजस्थान की जनता जो अपने नेता को सम्मान से बाबोसा कहती है आपका अपने प्रिय नेता बाबोसा की राजनैतिक विरासत सँभालने व उनके अधूरे रहे कार्यों को पूरा कर उनके सपनों का राजस्थान बनाने हेतु राजनीति में उतरने का इन्तजार कर रही थी, और आपके भीतर अपने प्रिय नेता स्व.बाबोसा की छवि देखते हुए उम्मीद रखती है कि आप स्व.भैरों सिंह जी के बताये, सिखाये राजनैतिक मूल्यों को अपने व्यवहार में अपना व आत्मसात कर उनके पदचिन्हों व उनकी नीतियों का अनुसरण करेंगे|

आपसे मिलने व राजनैतिक व सामाजिक विषयों पर चर्चा करने पर आपका मिलनसार व सरल स्वभाव व्यक्तित्व, मिलने की आसान उपलब्धता व गहरी राजनैतिक समझ, सामाजिक समस्याओं को समझने की क्षमता व उनके प्रति संवेदनशीलता स्पष्ट प्रतिबिम्बित होती है, जो स्व.बाबोसा के किसी भी समर्थक को आश्वस्त करने में काफी है कि आपके रूप में उनके प्रिय नेता की विरासत सँभालने वाला सुपात्र उपलब्ध है| आपको सार्वजनिक सभा में भी भीड़ ध्यान पूर्वक गंभीरता से सुनती है और आपमें भी भीड़ को अपने भाषण में विषयानुकुल मुद्दों पर बात कर बांधे रखने की क्षमता व कला है, आप अपने विभिन्न कार्यक्रमों के दौरों में अपने नानोसा के पूर्व परिचितों से जिस तरह उनको नानोसा के समान समझ आदर देकर मिलते है तो वे आपके सरल स्वभाव में स्व.भैरों सिंह जी की ही छवि देखते है| आखिर उनके सरल स्वभाव के चलते ही लोग उनके मुरीद थे|

अपनी सभाओं में आप अपनी बात जिस तरह से मातृभाषा राजस्थानी में रखते है उससे आपका अपनी संस्कृति व मातृभाषा से जुड़ाव स्पष्ट झलकता है, आपको सुनने के बाद जहाँ बुजुर्गों को स्व.भैरोंसिंह जी की कमी नहीं खलती वहीँ युवा वर्ग आपमें एक उभरते युवा नेता की छवि देख रहा है| और आपके नेतृत्व को स्वीकारने हेतु तैयार है| राजस्थान के युवा वर्ग को आपसे बहुत उम्मीदें है और युवा वर्ग चाहता है कि प्रदेश स्तर पर कार्य करें व उन युवाओं का सहयोग करें जो राजनीति ने आगे बढ़ाना चाहता है और आप जिस तरह से प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों के कार्यक्रमों में भाग लेने हेतु दौरे करते है उससे साफ है कि आने वाले समय में युवाओं को एक युवा प्रदेश नेता की कमी नहीं खलेगी|

प्रदेश के युवाओं का युवा नेता राजवी के प्रति प्रेम व भाजपा के केन्द्रीय नेतृत्व का आपके सिर पर आशीर्वाद कल जयपुर में मोदी जी की सभा के दौरान देखने को मिला, मोदी जी की हवाई अड्डे पर आगवानी करने वालों की अग्रिम पंक्ति में युवा नेता राजवी वसुंधरा राजे के साथ मौजूद थे, मोदी जी द्वारा दिए प्यार व आशीर्वाद से अभिभूत हो श्री राजवी फेसबुक पर लिखते है- “भावी प्रधानमंत्री मोदी जी ने मुझे वही प्यार व आशीर्वाद दिया जैसा वे स्व.नानोसा हुकुम के सामने दिया करते थे, ऐसे इंसान दुनियां में विरले ही होते है|”

मोदी जी सभा में राजस्थान के विभिन्न जिलों से आये कार्यकर्ताओं में से हजारों कार्यकर्ता कार्यक्रम के बाद अपनी अपनी बसे लेकर जिस तरह अपने युवा नेता राजवी से मिलने उनके घर गए और उनके प्रति समर्थन, प्यार व स्व.भैरोंसिंह जी के प्रति श्रद्धा दर्शायी उससे अभिभूत हो श्री राजवी फेसबुक पर लिखते है-

“आज भाजपा के छोटे से बड़े कार्यकर्ताओं से लेकर राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री राजनाथ सिंह जी और भावी प्र.म. श्री नरेन्द्र जी मोदी का अपने प्रति प्यार देख मन और आँखें भर आई, ये है नानोसा हुकुम की कमाई इज्जत कि आज मुझ जैसे नाचीज से मिलने हजारों कार्यकर्त्ता बंधू बसे रोक रोक कर घर पधारे और राष्ट्रीय नेतृत्व ने भी सिर पर हाथ रखा, सही कहा गया है कि इज्जत और श्रद्धा की कमाई इंसान के चले जाने के बाद भी उसका साथ निभाती है, भाजपा को हर कार्यकर्त्ता को मेरा नमन और सम्मान|”

पिछले दिनों एक वेब साईट पर “उभरते नेता श्री अभिमन्यु सिंह राजवी” लेख पर कुछ लोगों ने टिप्पणियां की कि ये तो वंशवाद है, इस पर चर्चा करने पर श्री राजवी ने कहा-“मुझे स्व.भैरोंसिंह जी जैसे राष्ट्रीय व लोकप्रिय नेता का वंशज होने के नाते उनके नाम का फायदा मिलना तो स्वाभाविक है, साथ ही मेरा सौभाग्य है कि मैंने बचपन से तरुणावस्था तक एक महान नेता के सानिध्य में रहकर राजनीति सीखी जो हर किसी को नसीब होना दुर्लभ है, नानोसा हुकुम के संपर्कों का भी मुझे फायदा मिलेगा पर मेरे मामले में वंशवाद का आरोप लगाना निराधार है, हाँ यदि आज नानोसा हुकुम होते और मुझे कहीं से सीधा विधायक या सांसद बनवा मंत्री आदि बनवा देते तब वंशवाद का आरोप लगाया जा सकता था पर अब चूँकि नानोसा हुकुम है नहीं और मुझे उनकी अनुपस्थिति में उनके द्वारा दी गयी सीख और प्रेरणा के सहारे खुद ही अपनी राजनैतिक मंजिल तय करनी है, अब जनता नाम के साथ मेरा काम देखकर मुझे समर्थन देगी अत: मेरे मामले में वंशवाद का आरोप लगाया जाना उचित नहीं|

राजस्थान भाजपा के कार्यक्रमों में आपकी दमदार उपस्थिति के अलावा कल श्रीगंगानगर में होने वाले BD Agarwal Medical College के शिल्यानास समारोह में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, स्वास्थ्य मंत्री नबाब अहमद खान (दुर्रु मियां), और जमीदारा पार्टी के अध्यक्ष बी.डी.अग्रवाल जैसे बड़े लोगों के साथ आपकी उपस्थिति को देखते हुए यह सहज ही अनुमान लगाया जा सकता कि राजस्थान की राजनीति में एक नए राजनैतिक सितारे का उदय हो चूका है|


अभिमन्यु सिंह राजवी का ब्लॉग लिंक

Related Articles

20 COMMENTS

  1. मारवाङी मे कहावत है की
    " बढेरो री पायोङी राबङी बहुत काम आवे "
    स्व.भैरोसिँह जी शेखावत की जनता की सेवा की ही कमाई है
    की उनके नाती मे आज ये नेत्रत्व की क्षमता है ।
    समाज के लिये भी एक उम्मीद की किरण है

  2. अभिमन्यु बन्ना के व्यक्तित्व में बोबोसा हुकम की झलक देखने को मिलती है! में पर्सनली इनसे मिल चूका हु, बड़े ही मिलनसार और समाज के लिए समर्पित रहकर कार्य कर रहे है आज की युवा शक्ति इनके साथ है……………

  3. देश मे वंशवाद एक बहुत बड़ी समस्या है लेकिन ये वंशवाद यहाँ बाबोसा के दोहिते के सामने लागू नहीं हो रहा है, वंशवाद तो गांधी परिवार और अब यादव परिवार के यहाँ ही शोभा देती है। बाबोसा ने खुद के लिए जिंदगी भर की इज्जत और सम्मान कमाया और इस सम्मान और इयाज्जत को आगे बढ़ाने का कार्यभार उनके दोहिते अभिमन्यु जी ने उठाया और खुद के दम पर खुद की एक अलग पहचान एवं बाबोसा के सपनों को पूरा करने का भार उठा वीर अभिमन्यु की भांति कॉंग्रेस रूपी राक्षसों के किले को ना सिर्फ ध्वस्त करना है बल्कि कम उम्र को देखते हुए ये प्रार्थना की जा सकती है एवं अपेक्षित लगता है की अभिमन्यु जी अपने बाबोसा के मानिंद देश के उच्चस्थ पद पर भी सुशोभित हों

    जय श्री राम, जय राजपूताना, जय राजस्थान

  4. इतिहास भविष्य के लिए अपने हस्ताक्षर छोड़ जाता है। राजस्थान की गौरवमयी परंपरा और आन बान जब नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व और सानिध्य मे निखरेगी तो उसका ओज और तेजस्विता चहुं दिस जगमगाएगी… हम सब की कामना है राजवी जी अपने खानदान की परंपरा के साथ साथ देश का नाम भी ऊँचा करें॥ जय हो !! विजय हो !!

  5. Abhimanyu Singh …..Naam hi kafi hai. Rajvi likhne ki jarurat nahi hai. He is a young man with high values. Of course he will get the benefit in politics Because he belongs to the family of Sh. Bhairo Singh Shekhawat (Vice President of India).

    My best Wishes for him…it is long way to go.

  6. जैसे स्वर्गीय भैंरोंसिंह जी ने राजनीति की सामंजस्य की ….कार्यकर्ताओं का सम्मान…एक परिवार की तरह सब को समझना और संगठन के साथ मिलकर चलना….वैसे ही हम भी इनसे अपेक्षा करते ैहं……तो निश्चित ही ये मानलें की एक नये सितारे का उदय हो चुका है…..शुभकामनायें….वंदेमातरम्

  7. समाज को अभिमन्यु सिंह राजवी से काफी उम्मीद है। जब चारों और से युवा राजनीति मे पैठ बना रहे हैं तो ऐसे मे राजपूत समाज के लिए इनका राजनीति मे आना सही कदम है, आशा करते हैं की ये समाज की उम्मीदों पे खरे उतरेंगे और लंबे समय तक अपने राजनीतिक जीवन की अमिट छाप छोड़ेंगे।

  8. Abhimanyu Singh me Bhenro singh ji k bhut se guno ki jalak milti hai… main kafhi bar dadobhai se mil chuka hu ye puran rup se ek aam rajput ki trah behave karte hai na ki rajneta ki trah…& ye bjp k ekmatar rajput neta hai jo apne facebook a/c & sambodhno me khule rajputi ki bante karte hai (Bina apne rajnetik bhavisy ki chinta kiye)…

  9. चाहे युवाओं से ही सही ये आवश्यक है कि राजनीति का क्षत्रियकरण हो। अभिमन्यु सिंह जैसे युवा यदि राजनीती में आकर जनता की सेवा करते है तो ये समाज में मिसाल कायम कर सकेगे । इतिहास गवाह है राज करने की कला सिर्फ राजपूत के खून मे ही समाई हुई है। एक क्षत्रिय ही सभी जातियों को एकजुट कर रख सका है। क्योंकि क्षत्रिय जब राज करता है तो सदा अपने स्वार्थ को भूल दूसरों की रक्षा और सेवा के लिए जीवन को भी दांव पर लगा देता है ।

  10. आशा है अभिमन्यु सिंह जी अपनी संस्कृति और जड़ों से हमेशा जुड़े रहकर नयी ऊंचाईयों को छुएंगे और समाज और देश का भविष्य रोशन करेंगे… राजवी सा को बहुत बहुत शुभकामनायें !!

  11. हमें राष्ट्र की धुरी केंद्र तक पहुँच रखने वाले नेता की जरुरत थी जो अभिन्यु जरुर पूरी कर सकते है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Stay Connected

0FansLike
3,501FollowersFollow
20,100SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles