शेखावाटी ने अपने सिंघम के अभिनंदन समारोह को ऐसे बना दिया अविस्मरणीय

हर शहर में कई पुलिस, प्रशासनिक अधिकारी आते हैं, जाते हैं, शहर की जनता को कोई फर्क नहीं पड़ता| हाँ ट्रांसफर पर विभाग के कुछ कर्मचारी एकत्र होकर उनके लिए एक छोटा सा विदाई समारोह करने की औपचारिकता अवश्य निभाते हैं| इस औपचारिकता के विपरीत जिन अधिकारीयों का अपने मातहत कर्मचारियों ले साथ बहुत अच्छा बर्ताव रहता है उन अधिकारयों का विदाई समारोह कर्मचारी अविस्मरणीय अवश्य मना देते हैं| लेकिन आज हम एक अधिकारी के विदाई समारोह की चर्चा कर रहे हैं, जो उनके विभाग या साथियों ने नहीं बल्कि शहर की जनता ने आयोजित किया और बिना के किसी बुलावे अपने चहेते अधिकारी के अभिनन्दन के लिए जनता के उमड़ पड़ी|

जी हाँ ! हम बात कर रहे है शेखावाटी के सिंघम के नाम से मशहूर राजस्थान पुलिस के स्टार थानेदार और सीकर कोतवाल महावीर सिंह राठौड़ के अभिनन्दन समारोह की| आपको बता दें कोतवाल राठौड़ ने फतेहपुर में रहते हुए बालक ध्रुव के अपहरण काण्ड को जिस तरीके सुलझाया और बालक को सही सलामत बरामद कर घर तक पहुँचाया, उसके बाद तो जिले की जनता उनकी मुरीद हो गई| यही नहीं हर काम को कर्तव्यनिष्ठा और ईमानदारी के साथ करने के  अलावा कोतवाल राठौड़ की दबंग छवि भी शेखावाटी को बहुत पसंद है| उनकी इस छवि के चलते अपराधी उनसे खौफ खाते हैं और उनकी तैनाती के बाद अपनी आपराधिक गतिविधियाँ स्वत: बंद कर देते हैं| ऐसे जनता को एक तरफ राहत मिलती है, वहीं राठौड़ का मिलनसार स्वभाव जनता को अपना कायल बना देता है|

यही कारण था, कल सीकर में उनके लिए आयोजित नागरिक अभिनंदन समारोह में शहर के हर जाति-समुदाय के सामाजिक संगठन, संस्थाएं, राजनेता, सामाजिक नेता, कार्यकर्त्ता व गणमान्य नागरिक उपस्थित थे| विभिन्न संस्थाओं की और श्री राठौड़ को साफा पहनाकर माल्यार्पण में ही घंटों का समय लग गया| कार्यक्रम में शामिल हर व्यक्ति जहाँ उनका व्यक्तिगत सम्मान करना चाह रहा था, वहीं वक्ताओं ने उनकी कार्यशैली, व्यवहार, कर्तव्यनिष्ठा की सराहना की| पूर्व मंत्री राजेन्द्र पारीक ने कोतवाल राठौड़ की छवि का वर्णन करते हुए बताया कि कोतवाल राठौड़ ने अपनी कार्यप्रणाली से अपने अध्यापक सुमेर सिंह जी शेखावत को सच्ची श्रद्धांजलि दी है| पारीक ने बताया कि उनमें जो गुण है, उसके पीछे सुमेर सिंह जी शेखावत की शिक्षा है| आपको बता दें पूर्व मंत्री राजेन्द्र पारीक भी सुमेरसिंहजी शेखावत के शिष्य रह चुकें है| इस अवसर पर सीकर नगर परिषद के सभापति जीवणखान, पूर्व मंत्री राजेन्द्र पारीक, भाजपा नेता महेश शर्मा, जितेन्द्र सिंह कारंगा, बाबुसिंह शेखावत, सुरेन्द्रसिंह सरवड़ी सहित शहर के प्रतिष्ठित व्यापारी, गणमान्य व्यक्ति, पूर्व प्रशासनिक अधिकारी, सामाजिक कार्यकर्त्ता उपस्थित थे|

One Response to "शेखावाटी ने अपने सिंघम के अभिनंदन समारोह को ऐसे बना दिया अविस्मरणीय"

  1. Mangej Singh Shekhawat   July 31, 2018 at 1:29 pm

    I appreciate the nice presentation of farewell of a competent Police Officer Shri Mahaveer Singh Rathore which will inspire others in the police force to follow suit. I hope, he will render similar services in his new posting. Thanks

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.