राजपूतों से अर्ज करूँ

Rajul Shekhawat

तन-मन से है नारा मेरा , बोलो जय भवानी | धिक्कार है उन राजपूतों को ,खोदी जिन्होंने अपनी जवानी || तन-मन से है नारा मेरा , बोलो जय भवानी | कायर नही आज हम , दुनिया को यह आज बतानी || हम जन रक्षक रहे सदा से , क्षात्र धर्म का यह नारा है | दुष्टों को हम मार भगाए , यही फर्ज हमारा है || कठिनाइयों के बीहड़ पथो में , हमने जीवन गुजारा है | जन हित की रक्षा खातिर , दुश्मन को ललकारा है || त्याग बलिदान के पुंज हम है , सबको यह बात बतानी | तन मन से है नारा मेरा , बोलो जय माँ भवानी || || जय माँ भवानी ||

Leave a Reply

Your email address will not be published.