ब्लोगरज़ूम विजेट और वायरस

आजकल कई ब्लोग्स पर जाते ही एंटी-वायरस उन ब्लोग्स पर वायरस होने की चेतावनी देता है , चेतावनी गौर से देखने पर पता चलता है कि यह वाइरस ब्लोगरज़ूम.कॉम के कोड में है . और यह चेतावनी सिर्फ उन्ही ब्लोग्स के खोलने पर आ रही है जिन पर ब्लोगरज़ूम.कॉम के विजेट का कोड लगा है |
यदि आपको भी किसी ब्लॉग पर इस तरह की चेतावनी मिल रही है तो कृपया सम्बंधित ब्लॉग लेखक को जरुर सूचित करें ताकि वह इस कोड को हटा सकें |

परिचय:–संस्था एवं संस्थापक |
गधा सम्मेलन के लिये ताऊ का सोंटा (Taau's Baton) रवाना
मेरी शेखावाटी

14 Responses to "ब्लोगरज़ूम विजेट और वायरस"

  1. Udan Tashtari   September 28, 2010 at 2:09 am

    अच्छी जानकारी.

    Reply
  2. रंजन   September 28, 2010 at 2:40 am

    thanks..

    Reply
  3. विवेक सिंह   September 28, 2010 at 2:48 am

    बहुत उपयोगी जानकारी । धन्यवाद !

    Reply
  4. निर्मला कपिला   September 28, 2010 at 4:06 am

    धन्यवाद इस जानकारी के लिये।

    Reply
  5. डॉ. मोनिका शर्मा   September 28, 2010 at 4:07 am

    behad upyogi jankari… dhanywad aapka…

    Reply
  6. Raviratlami   September 28, 2010 at 4:26 am

    चिट्ठाकारों को चाहिए कि फालतू के विजेट और भारी-भरकम साज-सज्जा को हटा दें. क्योंकि अंत में पाठक सामग्री के लिए आता है.
    कई चिट्ठों में फालतू का फ्लैश आधारित विजेट – खासकर घूमती पृथ्वी और घड़ी इत्यादि रहती है जिसका कोई अर्थ नहीं है, और वो न सिर्फ खतरा पैदा करते हैं, पेज लोड करने में भी देरी करते हैं.

    Reply
  7. नरेश सिह राठौड़   September 28, 2010 at 6:20 am

    मै तो इस प्रकार के ब्लोग पर जाने से बचना चाहता हूँ | भले ही एक पाठक को खोना पड़े |

    Reply
  8. Surendra Singh Bhamboo   September 28, 2010 at 9:12 am

    सूचनात्मक जानकारी प्रदान करने के लिए आभार

    Reply
  9. उपयोगी आलेख है!

    Reply
  10. ताऊ रामपुरिया   September 28, 2010 at 12:34 pm

    बढिया जानकारी मिली. आभार.

    रामराम.

    Reply
  11. प्रवीण पाण्डेय   September 28, 2010 at 1:03 pm

    एक दो जगह नहीं जा पा रहा हूँ, इस कारण से।

    Reply
  12. राज भाटिय़ा   September 28, 2010 at 4:59 pm

    बहुत सुंदर जानकारी दी आप ने धन्यवाद

    Reply
  13. दिगम्बर नासवा   September 29, 2010 at 8:00 am

    उपयोगी जानकारी …

    Reply
  14. उपयोगी आलेख| मै भी ऐसे चिट्ठों से दूर ही रहता हूँ!

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.