Home Poems Video फिर भी दिल है हिन्दुस्तानी

फिर भी दिल है हिन्दुस्तानी

13



विदेशी उपभोक्ता वस्तुओं पर हमारी निर्भरता बढती ही जा रही है आइये गाँधी जयंती पर स्वदेशी वस्तुओं का प्रयोग करने की शुरुआत करे |
और धीरू सिंह जी के आव्हान पर चीनी वस्तुओं का बहिस्कार करे |

13 COMMENTS

  1. सहमत है पर यह बहुत ही कठिन है क्योंकि वायरस की तरह फैल चुकी है ये चीनी वस्तुयें । आंदोलन की आवश्यकता है । आभार ।

  2. अच्छे विचार हैं. जितना उपलब्ध हैं, उतना तो स्वदेशी चीजों का इस्तेमाल करिये ही.

  3. स्वदेशी बनी वस्तुओं का ही चुनाव करेंगे।
    जैविक खाद्यान्नों को प्राथमिकता देंगे।
    उर्जा की सभी प्रकार से बचत करेंगे।
    हर प्रकार का प्रदूषण कम से कम हो इसका खयाल रखेंगे।
    जैवविविधता कबढ़ावा देंगे।

  4. हां ब्लाग एग्रीगेटर खोलता पर स्क्रिप्ट ईंस्टालेसन या Python सपोर्ट क ने वाला होस्टिंग नही है और खूब मेहनत लगेगा

    ये रहा ब्लाग एग्रीगेटर स्क्रिप्ट

    http://www.planetplanet.org/

    मैने चिट्ठाजगत,ब्लागवाणी के स्क्रिप्ट ओफ्लाईन ब्राउजर से डाउन्लोड कर के देखा था(ओफलाईन ब्राउजर से कई अन्य फोल्डर लोकेशन दिख जाते हैं)

    और ईनहोने Magpie RSS जैसे और आदी कई स्क्रिप्ट डाले हैं

    जैसे ब्लाग दिखाने के लिये अलग, ब्लाग फिड खोजने वाला अलग स्क्रिप्ट, फिड को साईट पर खिचने वाला अलग स्क्रिप्ट।

    बन तो जाएगा पर मेहनह बहुत लगेगा – आप कहते हैं तो मै Blog Aggregator बनाने की कोशीस करूंगा या जैसे ही $$ पेपल पर आते हैं तो प्रोग्रामर्स से बनवा दूंगा जो .php मे बना देंगे

  5. फिर भी दिल है हिन्दुस्तानी
    इनका बाज़ार इतना विकसित हो चुका है कि मुशकिल है पर नामुमकिन नहीं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Exit mobile version