ज्ञान दर्पण का एक साल

आज ही के दिन २० नव.२००८ को ब्लोगर से कस्टम डोमेन लेकर ज्ञान दर्पण की शुरुआत की गई थी , एक वर्ष कब बीत गया पता ही नहीं चला ,कल ही की बात लग रही है जब हिंदी ब्लॉग टिप्स पर आशीष जी ने अपने ब्लॉग को कस्टम डोमेन पर ले जाने सम्बंधित पोस्ट लिखी थी और उसकी प्रेरणा से ज्ञान दर्पण .कॉम डोमेन खरीदकर यह ब्लॉग बनाया गया |
पिछले एक साल में ज्ञान दर्पण पर प्रकाशित २४४ लेखों को ब्लोगर साथियों व गूगल से आने वाले पाठको के स्टेट काउंटर के अनुसार ६२६०० हिट मिले और आप सभी के सक्रिय सहयोग से ज्ञान दर्पण चिट्ठाजगत में भी ३६ वीं रेंक पर आने में कामयाब रहा | यह सब आप सभी ब्लोगर साथियों के सक्रिय सहयोग व आपसे मिली प्रेरणा के चलते ही संभव हो पाया है |
पिछले एक साल में ज्ञान दर्पण को मिले सहयोग व प्रेरणा के लिए आप सभी ब्लोगर साथियों व ब्लॉग एग्रीगेटर्स का हार्दिक आभार व धन्यवाद |;

26 Responses to "ज्ञान दर्पण का एक साल"

  1. हिमांशु । Himanshu   November 20, 2009 at 4:51 pm

    यह सब ज्ञान दर्पण की विविधता भरी ज्ञानवर्धक व रोचक प्रविष्टियों से संभव हो पाया है । आभार ।

    Reply
  2. लोकेश Lokesh   November 20, 2009 at 5:16 pm

    वाह्।
    बधाई आपको

    Reply
  3. cmpershad   November 20, 2009 at 5:44 pm

    एक साल से आप ज्ञान का दर्पण दिखा रहे है… वर्षगांठ की बधाई स्वीकारें:)

    Reply
  4. एस.के.राय   November 20, 2009 at 5:52 pm

    रतन जी ! आपने सच कहा कि एक साल याने 365 दिन कब बीत गया पता ही नहीं चला ,अब आप ही सोचिए आपके जीवन के कितने वसन्त सुख -द:ुख के साथ बीत चुके हैं ,समय किसी का इन्तेजार नहीं करता ,यदि समय का सही उपयोग किया गया हो , तो सचमुच एक साल याने कि साल गिरोह पर या जन्म दिन के लिए बहुत -बहुत बधाई …

    Reply
  5. संगीता पुरी   November 20, 2009 at 5:57 pm

    बहुत बहुत बधाई आपको !!

    Reply
  6. Rakesh Singh - राकेश सिंह   November 20, 2009 at 6:14 pm

    बधाई हो रतन जी !

    हमारी शुभकामनाएं आपके साथ है …. आप ऐसे ही ज्ञान सुधा बरसाते रहें |

    Reply
  7. कुन्नू सिंह   November 20, 2009 at 6:34 pm

    बधाई! बधाई!

    बहुत बढीया ब्लाग,लेख भी तो लिखते हैं।

    Reply
  8. अर्कजेश   November 20, 2009 at 7:04 pm

    बधाई और शुभकामनाऍं ।

    Reply
  9. महावीर बी. सेमलानी   November 20, 2009 at 7:36 pm

    रतनसिह जी ! ज्ञान दर्पण, हिन्दी चिठ्ठाकारी में भरपूर आनंद की अनुभूति कराने में सक्षम रहा । इसमे आपके भरपूर योगदान की मै भूरी-भूरी प्रसंसा करता हु, एवं आपको एवं आपके ब्लॉग ज्ञान दर्पण को मगल भावनाए प्रेषित करता हु .

    Reply
  10. Udan Tashtari   November 21, 2009 at 12:33 am

    बहुत बधाई एवं शुभकामनाएं.

    समय पंख लगाकर उड़ता है.

    Reply
  11. अजय कुमार झा   November 21, 2009 at 12:59 am

    रतन जी आपको बहुत बहुत बधाई और मुबारकबाद ..आगे के लिए शुभकामनाएं

    Reply
  12. ताऊ रामपुरिया   November 21, 2009 at 3:22 am

    यह आपकी लगन और मेहनत का परिणाम है. यह साईट दिनो दिन उन्नति करे और अपने मकसद में कामयाब हों यही शुभकामना है.

    रामराम.

    Reply
  13. RAJNISH PARIHAR   November 21, 2009 at 4:36 am

    बहुत बहुत बधाई आपको ..हमारी शुभकामनाएं आपके साथ है …

    Reply
  14. dhiru singh {धीरू सिंह}   November 21, 2009 at 8:11 am

    बहुत बहुत बधाई . ज्ञान दर्पण नित नये आयाम छुये यही कामना है .

    Reply
  15. काजल कुमार Kajal Kumar   November 21, 2009 at 8:12 am

    हज़ारों साल पूरे करें. शुभकामनाओं सहित.

    Reply
  16. NARENDRA   November 21, 2009 at 8:59 am

    प्रिय श्री रतन सिंह जी , अंतर्मन से शुभकामनायें …. नित्य ही आपके ब्लॉग को पढता हूँ … कभी कभी संपर्क भी करता हूँ … दिल को जो अच्छा लगता है वही तो पढने को मिल जाता है … मुझे सदस्य नहीं बनायेंगे क्या राजपूत वर्ल्ड का ? ( ब्राह्मण जो हूँ ) … सभ्यता और संस्कृति से जुड़े रहें … यही कामना करता हूँ : नरेन्द्र शर्मा

    Reply
  17. अनूप शुक्ल   November 21, 2009 at 10:16 am

    बधाई हो जी सालगिरह की!

    Reply
  18. बहुत-बहुत बधाई!
    निरन्तर लिखते रहें।

    Reply
  19. ज्ञानदत्त G.D. Pandey   November 21, 2009 at 2:56 pm

    जमाये रहिये जी! आपकी पोस्टों में गहराई और विविधता होती है। बोले तो दमदार ब्लॉगिंग!

    Reply
  20. Rambabu Singh   November 21, 2009 at 3:38 pm

    बहुत बधाई एवं शुभकामनाएं.

    Reply
  21. शरद कोकास   November 21, 2009 at 10:19 pm

    यह मेरा प्रिय ब्लॉग है ..बधाई ।

    Reply
  22. नवीन प्रकाश   November 22, 2009 at 6:23 am

    मेरी बधाई भी स्वीकारे

    Reply
  23. bahut bahut badhaai… gyandarpan isee tarah safalta ke naye mukaam hasil kare..

    Happy Blogging

    Reply
  24. नरेश सिह राठौङ   December 17, 2009 at 2:41 pm

    देरी से दी गयी बधाई स्वीकार करे ।

    Reply
  25. नरेश सिह राठौङ   December 17, 2009 at 2:42 pm

    देर से दी गयी बधाई स्वीकार करे ।

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.