चुनाव जीतने के बाद क्या हाल करेंगे ये लोग ?

चुनाव जीतने के बाद क्या हाल करेंगे ये लोग ?

अभी लोकसभा चुनावों का परिणाम आया नहीं और एक नेताजी के समर्थक सोशियल मीडिया पर लोगों को खुलेआम गालियाँ लिखते मिल जायेंगे | यही नहीं इन्हीं नेताजी के समर्थक अपनी ही जाति के एक पत्रकार को हर रोज संगठित रूप से सोशियल मीडिया में ट्रोल करने के साथ फोन पर खुलेआम धमकियाँ दे रहे हैं | पत्रकार के परिजनों तक के लिए गालियों की बौछार छोड़ रहे हैं जिनसे इन समर्थकों के चरित्र का पता चलता है कि ये लोग कैसे हैं ? अफ़सोस इस बात का है कि नेताजी ने आजतक इन समर्थकों पर लगाम भी नहीं लगाईं, जिससे साफ़ है कि नेताजी भी अपने समर्थकों की करतूत से खुश हैं|

आपको बता दें हमने उक्त पत्रकार के फेसबुक पेज, वेब साईट व यूट्यूब चैनल पर काफी सर्च किया पर उक्त नेताजी के खिलाफ हमें पत्रकार द्वारा लिखा कहीं मिला, हाँ नेताजी के प्रतिद्वंदी प्रत्याशी सहित उनके समर्थकों के भाषण व इंटरव्यू जरुर नजर आये | शायद नेताजी व उनके समर्थकों को यही बात चुभ गई होगी कि सजातीय होने के बावजूद उक्त पत्रकार ने उनके नेताजी के समर्थन में वीडियो क्यों नहीं डाले ? ख़बरें क्यों नहीं लिखी ?

यही नहीं दोनों प्रत्याशी एक जाति के होने के बावजूद नेताजी के समर्थक पत्रकार बंधू को जातिवादी ठहराने की भरसक कोशिश कर रहे हैं पर समझ नहीं आता कि जब दोनों प्रत्याशी एक ही जाति हैं तो फिर यदि पत्रकार बंधू नेताजी के विरोधी का समर्थन भी करे तो उसमें जातिवाद कैसा ? फिर भी जिस तरह से पत्रकार को टार्गेट किया जा रहा है, फोन पर गाली गलौच और धमकियाँ दी जा रही है, उसे देखते हुए लगता है अभी चुनाव परिणाम आये ही नहीं और नेताजी के समर्थक उत्पात मचाने को उतावले हो रहे है, ऐसे में समझा जा सकता है कि नेताजी द्वारा चुनाव जीतने के बाद ये समर्थक स्थानीय जनता का क्या हाल करेंगे जिन्होंने उनके नेताजी को राष्ट्रवाद के नाम पर जाति-धर्म से ऊपर उठकर व उनके पिछले बोल भुलाकर वोट दिए हैं|

पत्रकार बंधू के फेसबुक पेज पर नेताजी समर्थकों द्वारा लिखी गालियाँ तो आने वाले समय का शायद ट्रेलर मात्र  है फिल्म तो अभी बाकी है |

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.