कुछ मजेदार परिभाषाएं

ऑरकुट पर एक मित्र ने कुछ शब्दों को मजेदार परिभाषाएं स्क्रब की जो यहाँ हुबहू प्रस्तुत है
अनुभव : भूतकाल में की गई गलतियों का दूसरा नाम ।

अवसरवादी : वह व्यक्ति, जो गलती से नदी में गिर पड़े तो नहाना शुरू कर दे।

कंजूस : वह व्यक्ति जो जिंदगी भर गरीबी में रहता है ताकि अमीरी में मर सके।

अपराधी : दुनिया के बाकी लोगों जैसा ही मनुष्य, सिवाय इसके कि वह पकड़ा गया है।

अधिकारी : वह जो आपके पहुंचने के पहले ऑफिस पहुंच जाता है और यदि कभी आप जल्दी पहुंच जाएं तो काफी देर से आता है।

समझौता : किसी चीज को बांटने का वह तरीका जिसमें हर व्यक्ति यह समझता है कि उसे बड़ा हिस्सा मिला।

कान्फ्रेन्स रूम : वह स्थान जहां हर व्यक्ति बोलता है, कोई नहीं सुनता है और अंत में सब असहमत होते हैं।

परम आनंद : एक ऐसी अनुभूति जब आप अनुभव करते हैं कि आप एक ऐसी अनुभूति को अनुभव करने जा रहे हैं जो आपने पहले कभी अनुभव नहीं की है।

श्रेष्ठ पुस्तक : जिसकी सब प्रशंसा करते हैं परंतु पढ़ता कोई नहीं है।

कार्यालय : वह स्थान जहां आप घर के तनावों से मुक्ति पाकर विश्राम कर सकते हैं।

समिति : ऐसे व्यक्ति जो अकेले कुछ नहीं कर सकते, परंतु यह निर्णय मिलकर करते हैं कि साथ साथ कुछ नहीं किया जा सकता।

19 Responses to "कुछ मजेदार परिभाषाएं"

  1. seema   December 24, 2008 at 3:19 am

    शानदार परिभाषाये पढ़कर मजा आ गया |

    Reply
  2. Laxman Singh   December 24, 2008 at 3:24 am

    बहुत मजेदार

    Reply
  3. रंजन   December 24, 2008 at 4:23 am

    पहले पढी थी, लेकिन दुबार पढ़ने पर उतना ही मज़ा आया..

    खास कर “अवसरवादी”..हाहाहा

    Reply
  4. P.N. Subramanian   December 24, 2008 at 4:39 am

    मनमोहक परिभाषाएँ. आभार.

    Reply
  5. विवेक सिंह   December 24, 2008 at 5:19 am

    अवसरवादी छा गया भाई 🙂

    Reply
  6. ताऊ रामपुरिया   December 24, 2008 at 7:44 am

    बहुत लाजवाब लगी ये परिभाषाएं !

    रामराम !

    Reply
  7. रश्मि प्रभा   December 24, 2008 at 7:50 am

    मज़ा आ गया……

    Reply
  8. अल्पना वर्मा   December 24, 2008 at 8:28 am

    रोचक!

    Reply
  9. नरेश सिह राठौङ   December 24, 2008 at 11:21 am

    bahut achhee paribhaasha dee hai

    Reply
  10. seema gupta   December 24, 2008 at 11:36 am

    बहुत मजेदार परिभाषाये

    regards

    Reply
  11. राजीव जैन Rajeev Jain   December 24, 2008 at 11:47 am

    बहुत मजेदार

    मैं तो यह बहुत सारे लोगों को फारवर्ड कर रहा हूं
    बिना इंतजार किए

    Reply
  12. रंजना [रंजू भाटिया]   December 24, 2008 at 12:52 pm

    बहुत बढ़िया लगी यह

    Reply
  13. dhiru singh {धीरू सिंह}   December 24, 2008 at 12:54 pm

    बीजेपी ,कांग्रेस ,कामरेड का अगला अंक अच्छा लगा. यह परिभाषाये बिल्कुल फिट है .

    Reply
  14. Pt.डी.के.शर्मा"वत्स"   December 24, 2008 at 2:32 pm

    बहुत ही मजेदार परिभाषाएं

    Reply
  15. अशोक मधुप   December 24, 2008 at 5:26 pm

    मजेदार परिभाषांए।बधाई

    Reply
  16. ललित शर्मा   July 10, 2010 at 7:19 am

    मजा आ गया रतन सिंग जी
    आप भी दूर की कौड़ी ढुंढ के लाते हैं।

    आभार

    Reply
  17. काजल कुमार Kajal Kumar   July 11, 2010 at 8:26 am

    सुंदर प्रयोग.

    Reply
  18. संजय बेंगाणी   June 8, 2012 at 5:04 am

    सिगरेट: ऐसी डंडी जिसके एक शिरे पर तम्बाकू जलता है और दुसरे पर इंसान.

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.