औरत होने का अहसास

औरत होने का अहसास


बचपन से देखा है माँ को घर के कामों में पीसता हुआ

सुबह से शाम वो बिना किसी मजदूरी के मजदूरों सा काम करती थी

फिर भी खुश हमेशा खुश , उनके काम का अंतिम चरण यही सुन के समाप्त होता था

” तुम करती क्या हो दिन भर घर मे ?”

माँ ने हिंदी में मास्टर डिग्री ली थी और डाक्टरेट भी

फिर भी उनका घर में बैठना मुझे समझ नहीं आया

बस यही सब सुनते देखते फैसला किया था मैंने …

की मै कभी शादी नहीं करुँगी ,

अपनी मर्जी से जिउंगी

जो जी में आएगा वो ही करुँगी

जो पहनने का मन करेगा वो पहनूंगी

जंहा जाने का दिल करेगा वहा जाउंगी

मर्जी से जीना हे मुझे

बस जिद या फैसला कुछ भी कह लो

नहीं की शादी मैने ,घरवालो ने लाख समझाया

पर नहीं ,सब हार गए .

मै अपनी जिंदगी मै हार वो मुकाम पाती चली गई जिसकी मुझे ख्वाहिश थी

पैसा रुतबा सब कुछ ,मस्त जिंदगी थी ,न कोई रोकने वाला न कोई टोकने वाला

इसी खुमारी मै न जाने कब ३० दशक पार हो गए

माँ अभी भी मेरे पास बैठ के समझाती हे

पर मैने कह दिया की मुझे किसी का गुलाम नहीं बनना हे

आप की तरह मै किसी की गुलामी नहीं कर सकती

खूब जिया मैने जिंदगी को और ४० के पार कब चली गई पता ही नहीं चला

अब माँ भी नहीं रही

अब मेरे पास भी कुछ करने को नहीं

न जाने क्या बाकि रह गया कि सब कुछ बेमानी लगता है

कुछ इसे अहसास जो मै नहीं जी पाई
जैसे कि :-

माथे से सरकते पल्लू को सँभालने का अहसास

उनसे रूठने और उनके मनाने के अंदाज का अहसास

उनके घर देर से लौटने पर होने वाली बेचेनी का अहसास

व्रत त्यौहार पर श्रंगार का अहसास

प्रसव पीड़ा का अहसास

रातो को गिले बिस्तर मे सोने का अहसास

नन्हे कदमो का मेरे आँगन मे डगमगाने का अहसास

किशोर होते कदमो के फिसलने के डर का अहसास

बच्चो की शिकायत आने पे झुकने का अहसास ,और उनके कुछ पाने पे अकड़ने का अहसास

इसे सजे घर में बिखरे खिलोनो का अहसास

इस बेशकीमती फर्नीचर के पीछे छुपे नन्हे कदमो का अहसास

सब कुछ तो छुट गया ……..फिर क्या जिया मैने ?

सबसे बड़ा तो एक औरत होने का अहसास ही खो दिया मैने

ओ माँ अब पता चला तुम कितनी महंगी मजदुर थी
कौन देता तुम्हे मजदूरी ?

जिसका कोई मोल नहीं तो कोई केसे चुकाता तुम्हारा मोल

तुम्हारी वो मुस्कुराहट
ओ माँ अब अहसास हुआ तुम क्यों मुस्कुरा लेती थी

काश मैने तुम्हारी बात मान ली होती 🙁

केशर क्यारी….उषा राठौड़

16 Responses to "औरत होने का अहसास"

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.