इन्टरनेट का दुरूपयोग कैसे रोके

इन्टरनेट का दुरूपयोग कैसे रोके


घर हो या ऑफिस इन्टरनेट के उपयोग के साथ साथ दुरूपयोग की संभावनाएं बनी रहती है | ऑफिस में काम के समय भी अक्सर लोग तरह तरह की वेबसाइट खोल कर बैठे रहते है जिनका ऑफिस कार्यों से कोई सम्बन्ध नहीं होता या चेटिंग करते रहते है | कई दोस्त इन्टरनेट की चर्चा चलते ही बोल पड़ते है कि घर में बच्चे नेट का दुरूपयोग कर सकते है इसलिए वे चाहते हुए भी नेट कनेक्शन नहीं लेते | इन्टरनेट पर उपलब्ध अश्लील सामग्री के चलते ऐसे अभिभावकों की चिंता भी जायज लगती है लेकिन इस दुरूपयोग की संभावना के डर से इन्टरनेट को घर में ही नहीं घुसने दिया जाये यह भी तो गलत है | ऐसा करके हम बच्चों को इन्टरनेट पर उपलब्ध अथाह ज्ञान भंडार से वंचित भी तो कर रहे है | कई दोस्तों द्वारा इन्टरनेट के दुरूपयोग की सम्भावना जताने पर इसके समाधान के लिए आज मैंने गूगल बाबा से पूछताछ की ताकि दुरूपयोग के डर से इन्टरनेट कनेक्शन नहीं लेने वाले निश्चिंत होकर नेट कनेक्शन ले सके | पूछताछ करने पर गूगल बाबा ने Blue Coat K9 Web Protection सोफ्टवेयर नामक एक हथियार नेट का दुरूपयोग रोकने हेतु थमा दिया | इसे डाउनलोड कर अपने कंप्युटर में इंस्टाल कर देखा तो ये सोफ्टवेयर रूपी हथियार वाकई काम का निकला | इस सोफ्टवेयर में अलग-अलग तरह की वेब साइट्स की अलग-अलग श्रेणियां बनी है हम अपने घर या ऑफिस में जरुरत की श्रेणियां छोड़कर बाकि श्रेणियों पर सही का निशान लगा कर सेव कर दे तो यह सोफ्टवेयर जरुरत की वेबसाइट्स के अलावा अन्य सभी अवांछित वेबसाइट्स आपके कंप्युटर पर खुलने ही नहीं देगा और इस तरह से यह आपके नेट का दुरुपयोग रोक आपको निश्चिंत कर देगा |
इस सोफ्टवेयर को आप यहाँ चटका लगा कर से डाउनलोड कर सकते है और हाँ इंस्टाल करते समय इसके लाइसेंस नंबर की भी जरुरत पड़ती है जिसे आप K9 web protection की ओफिसिअल वेबसाइट पर अपना नाम रजिस्टर कर फ्री में प्राप्त कर सकते है |

Reblog this post [with Zemanta]

20 Responses to "इन्टरनेट का दुरूपयोग कैसे रोके"

  1. Udan Tashtari   April 3, 2009 at 12:44 am

    लगाम लगाने का अच्छा विकल्प है, आभार जानकारी के लिए.

    Reply
  2. dhiru singh {धीरू सिंह}   April 3, 2009 at 2:24 am

    धन्यवाद आपने बहुत ही महत्वपूर्ण जानकारी दी . एक सिरदर्द था वह दूर हो गया . मेने यह अपने यहाँ चालू कर लिया .

    Reply
  3. Vivek Rastogi   April 3, 2009 at 2:25 am

    बहुत अच्छी जानकरी पर अगर ओफ़िस में यह लगा दिया गया तो लगता है कि productivity बड़ जायेगी।

    Reply
  4. रंजन   April 3, 2009 at 4:21 am

    ताला मजबुत है न? पता चला गुगल बाबा इसकी भी चाबी लेके घूम रहे हो…

    Reply
  5. ताऊ रामपुरिया   April 3, 2009 at 5:58 am

    बहुत सार्थक पोस्ट लिखी आपने. धन्यवाद.

    रामराम.

    Reply
  6. डॉ. मनोज मिश्र   April 3, 2009 at 6:30 am

    बहुत अच्छी जानकारी .धन्यवाद .

    Reply
  7. hem pandey   April 3, 2009 at 7:44 am

    इस महत्वपूर्ण जानकारी के लिए धन्यवाद.

    Reply
  8. नरेश सिह राठौङ   April 3, 2009 at 8:12 am

    सुना तो बहुत था इस प्रकार के सोफ़्टवेयर के बारे मे लेकिन पुख़ता जानकारी नही थी। अब आपने काम मे लेकर देख लिया तो विश्वास भी हो गया है । जब भी जरूरत पडेगी जरूर काम मे लेंगे । इस ज्ञान वर्धक जानकारी को देने के लिये धन्यवाद

    Reply
  9. achchhi jaankari de rahe hain.

    Reply
  10. विष्णु बैरागी   April 3, 2009 at 2:14 pm

    निस्‍सन्‍देह अत्‍यन्‍त उपयोगी जानकारी। मेरे एक मित्र का संकट तो आपने तत्‍काल ही दूर कर दिया। हम दोंनों की ओर से आभार।

    Reply
  11. कुन्नू सिंह   April 4, 2009 at 8:10 pm

    हि…हि…. मूझे कोई नही रोक सकता है ईनटरनेट चलाने के लीये ।

    बहुत बढीया लेख, बहुत लोगो के काम आएगा ।

    Reply
  12. संदीप शर्मा   April 5, 2009 at 1:16 pm

    achchhi jankari di…
    lekin kya vakai kargar hai…

    Reply
  13. कारगर उपाय बताने के लिए धन्यवाद।

    Reply
  14. कारगर उपाय बताने के लिए धन्यवाद।

    Reply
  15. कारगर उपाय बताने के लिए धन्यवाद।

    Reply
  16. कारगर उपाय बताने के लिए धन्यवाद।

    Reply
  17. पुनीत ओमर   August 21, 2012 at 7:22 am

    हम तो अपनी कंपनी का भी नेटवर्क भेद दिए जहाँ उसकी सुरक्षा के लिए ५०० लोगों की टीम है… इसका भी इलाज निकाल लेंगे..

    Reply
  18. Sitaram Prajapati   August 21, 2012 at 9:08 am

    यह तो बहुत काम का ओजार है !

    Reply
  19. Sitaram Prajapati   August 21, 2012 at 9:12 am

    बहुत काम का ओजार मिल गया , बहुत बहुत धन्यवाद !

    Reply
  20. Short F ilm   March 20, 2014 at 9:07 pm

    बहुत बहुत धन्यवाद !

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.