आधुनिक भारत : कुं. अमित सिंह

“गेट्स-बी” का हेयर जैल, और “जिलेट” का हो शेव जैल
“फा” का हो आफ्टर शेव और “रे -बैन” का हो गोगल|

“जोकी” का होना चाहिए अंडरवियर और बनियान
“नाईक” के हों जूते,और मोज़े भी उसी के श्रीमान
“लेविस” की हो जींस, और “पीटर इंग्लॅण्ड” की कमीज
“हाय बड्डी-वाज़ -अप”, वाली होनी चाहिए आपमें तमीज|

“मेक-डोनाल्ड” वाला पिज्जा,और हो “हेवर्ड्स” की बियर
लाज हया शर्म हो न किसी की,बस बोलें “जस्ट-चीयर”
लड़का हो या हो लड़की,ना मानें किसी का भी फियर
माँ-बाप को भी बुलाएँ कहकर “यार” कम ऑन डियर|

अगर आप कर सकते हो ये सब मेरी सरकार
तभी माना जाएगा आपको “आधुनिक” मेरे यार
ना करो किसी से शर्म, ना सीखो कोई भी संस्कार
बस करले “अमित” इन सब “ब्रांडेड” चीजों से प्यार|

यही रह गयी है बस आधुनिकता की पहचान
ऐसे ही बन जाएगा “मेरा भारत महान”
जय जय हो मेरे भारत के नौजवान||
AMIT KUMAR SINGH

10 Responses to "आधुनिक भारत : कुं. अमित सिंह"

  1. संगीता स्वरुप ( गीत )   January 31, 2012 at 1:21 pm

    बहुत बढ़िया ..सटीक

    Reply
  2. प्रवीण पाण्डेय   January 31, 2012 at 3:50 pm

    ब्रांडेड जवान की समुचित परिभाषा।

    Reply
  3. डॉ॰ मोनिका शर्मा   January 31, 2012 at 4:20 pm

    Sach me….Bahut Badhiya

    Reply
  4. अब ब्रांडेड रिश्ते भी आने वाले हैं… 🙂

    Reply
  5. बहुत उम्दा

    Reply
  6. dheerendra   January 31, 2012 at 6:56 pm

    बहुत सुंदर रचना, अच्छी लगी.,

    welcome to new post –काव्यान्जलि–हमको भी तडपाओगे….

    Reply
  7. विष्णु बैरागी   February 1, 2012 at 4:51 pm

    नहीं हुआ यह सब अपने आप

    होता रहा यह सब,
    देखते रहे हम चुपचाप।
    अपनी-अपनी गरेबॉं में झॉंकें यार

    हम ही तो हैं इसके लिए जिम्‍मेदार।

    Reply
  8. JASRASAR   February 8, 2012 at 8:02 am

    no jawan pidhi ka satik aanklan sa thanks
    sultan singh jasrasar

    Reply
  9. AMIT KUMAR SINGH   March 1, 2012 at 8:03 am

    Shukriyaa aap sabhi ka

    Reply
  10. Praveen Singh   April 20, 2012 at 6:36 am

    wah wah wah wah ha ha ha

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.