कुछ मजेदार परिभाषाएं

ऑरकुट पर एक मित्र ने कुछ शब्दों को मजेदार परिभाषाएं स्क्रब की जो यहाँ हुबहू प्रस्तुत है
अनुभव : भूतकाल में की गई गलतियों का दूसरा नाम ।

अवसरवादी : वह व्यक्ति, जो गलती से नदी में गिर पड़े तो नहाना शुरू कर दे।


कंजूस : वह व्यक्ति जो जिंदगी भर गरीबी में रहता है ताकि अमीरी में मर सके।

अपराधी : दुनिया के बाकी लोगों जैसा ही मनुष्य, सिवाय इसके कि वह पकड़ा गया है।


अधिकारी : वह जो आपके पहुंचने के पहले ऑफिस पहुंच जाता है और यदि कभी आप जल्दी पहुंच जाएं तो काफी देर से आता है।




समझौता : किसी चीज को बांटने का वह तरीका जिसमें हर व्यक्ति यह समझता है कि उसे बड़ा हिस्सा मिला।


कान्फ्रेन्स रूम : वह स्थान जहां हर व्यक्ति बोलता है, कोई नहीं सुनता है और अंत में सब असहमत होते हैं।


परम आनंद : एक ऐसी अनुभूति जब आप अनुभव करते हैं कि आप एक ऐसी अनुभूति को अनुभव करने जा रहे हैं जो आपने पहले कभी अनुभव नहीं की है।


श्रेष्ठ पुस्तक : जिसकी सब प्रशंसा करते हैं परंतु पढ़ता कोई नहीं है।


कार्यालय : वह स्थान जहां आप घर के तनावों से मुक्ति पाकर विश्राम कर सकते हैं।


समिति : ऐसे व्यक्ति जो अकेले कुछ नहीं कर सकते, परंतु यह निर्णय मिलकर करते हैं कि साथ साथ कुछ नहीं किया जा सकता।
Share on Google Plus

About Ratan singh shekhawat

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.
    Blogger Comment
    Facebook Comment

19 comments:

  1. शानदार परिभाषाये पढ़कर मजा आ गया |

    ReplyDelete
  2. पहले पढी थी, लेकिन दुबार पढ़ने पर उतना ही मज़ा आया..

    खास कर "अवसरवादी"..हाहाहा

    ReplyDelete
  3. मनमोहक परिभाषाएँ. आभार.

    ReplyDelete
  4. अवसरवादी छा गया भाई :)

    ReplyDelete
  5. बहुत लाजवाब लगी ये परिभाषाएं !

    रामराम !

    ReplyDelete
  6. बहुत मजेदार परिभाषाये

    regards

    ReplyDelete
  7. बहुत मजेदार

    मैं तो यह बहुत सारे लोगों को फारवर्ड कर रहा हूं
    बिना इंतजार किए

    ReplyDelete
  8. बीजेपी ,कांग्रेस ,कामरेड का अगला अंक अच्छा लगा. यह परिभाषाये बिल्कुल फिट है .

    ReplyDelete
  9. बहुत ही मजेदार परिभाषाएं

    ReplyDelete
  10. मजेदार परिभाषांए।बधाई

    ReplyDelete
  11. मजा आ गया रतन सिंग जी
    आप भी दूर की कौड़ी ढुंढ के लाते हैं।

    आभार

    ReplyDelete
  12. सिगरेट: ऐसी डंडी जिसके एक शिरे पर तम्बाकू जलता है और दुसरे पर इंसान.

    ReplyDelete